कल जलाया था, आज चलाया बुलडोजर, ₹163 करोड़ का ड्रग नष्ट: CM हिमंत बिस्वा सरमा ऐसे तोड़ रहे ड्रग माफियाओं की कमर

असम में ड्रग्स के खिलाफ जीरो टॉलरेंस नीति का अनुसरण करते हुए मुख्यमंत्री हिमंत बिस्वा सरमा ने आज एक बार फिर अनूठे तरीके से ड्रग के खिलाफ कड़ा संदेश दिया है। शनिवार (17 जुलाई 2021) को उन्होंने भारी मात्रा में जब्त की गई ड्रग्स को सार्वजनिक तौर पर जलाया था और अब रविवार (18 जुलाई 2021) को उन्होंने जब्त की गई ड्रग्स पर बुलडोजर चलाया है।

पिछले दो-तीन दिनों से सीएम सरमा असम में लगातार ड्रग्स के खिलाफ चलाए जा रहे अभियान में शामिल हुए हैं। उन्होंने दिफू और गोलाघाट में सार्वजनिक रूप से बड़ी मात्रा में जब्त किए गए ड्रग्स को जलाया था। इसके बाद आज फिर सीएम सरमा ड्रग्स निस्तारण कार्यक्रम में शामिल हुए। इसी क्रम में नागाँव में उन्होंने ड्रग्स का निस्तारण करते हुए करोड़ों रुपए की जब्त की गई ड्रग्स पर खुद ही बुलडोजर चलाया।

इसके अलावा होजई में भी उन्होंने ड्रग्स को जलाया और अपने ट्वीट में इसके लिए लिखा ‘असम में ड्रग्स का अंतिम संस्कार’। सीएम सरमा ने अपने ट्वीट में बताया कि होजई में 353.62 ग्राम हेरोइन, 736.73 किग्रा गाँजा और 45,843 नशे की गोलियाँ नष्ट की गईं। उन्होंने अपने ट्वीट में यह भी जानकारी दी कि पिछले 2 दिनों में लगभग 163 करोड़ रुपए का ड्रग्स नष्ट किया गया है और पूर्वोत्तर से ड्रग्स की समस्या को खत्म करने के लिए वो मणिपुर और मिजोरम के साथ मिलकर काम कर रहे हैं।

ज्ञात हो कि शनिवार को भी सीएम सरमा ड्रग्स निस्तारण कार्यक्रम में शामिल हुए थे। उन्होंने कहा था कि वो एक नशा मुक्त असम बनाने के लिए प्रतिबद्ध हैं और इससे निपटने में कोई कसर नहीं छोड़ रहे हैं और इसके लिए असम पुलिस को कड़ी कार्रवाई करने की पूर्ण स्वतंत्रता दी गई है, ताकि प्रदेश के युवाओं को इस संकट से बचाया जा सके। शनिवार को आयोजित कार्यक्रम में उन्होंने 802 ग्राम हेरोइन, 1205 किलो गाँजा/भाँग, 3 किलो अफीम और 2,06,906 नशीली गोलियाँ सार्वजनिक तौर पर नष्ट की।

गौरतलब है कि राज्य में ड्रग्स के बढ़ते इस्तेमाल को लेकर सीएम हिमंत बिस्वा सरमा ने हाल ही में फिल्म ‘उड़ता पंजाब’ का जिक्र करते हुए कहा था कि ‘उड़ता पंजाब’ की तरह, असम भी ‘उड़ता असम’ बनने की राह पर था। लेकिन असम पुलिस जिस तरह से अपना काम कर रही है और अवैध नशीले पदार्थों के खिलाफ जंग जारी रखे हुए है, हमें लगता है कि हम राज्य के कई युवाओं, परिवारों को इससे बचाने में सफल रहे हैं।

Updated: October 2, 2021 — 8:55 am

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *