किसान सम्मान निधि के लाभार्थियों को मोदी सरकार दे रही है 3 लाख रुपये! यह ऋण प्राप्त करने का तरीका है

किसानों को खेती से जुड़े खर्चों को पूरा करने के लिए केंद्र सरकार पीएम किसान सम्मान निधि के तहत उनके खातों में सीधे 6000 रुपये की राशि भेजती है।

किसानों को खेती से जुड़े खर्चों को पूरा करने के लिए केंद्र सरकार पीएम किसान सम्मान निधि के तहत उनके खातों में सीधे 6000 रुपये की राशि भेजती है।

किसानों को खेती से जुड़े खर्चों को पूरा करने के लिए केंद्र सरकार पीएम किसान सम्मान निधि के तहत 6000 रुपये की राशि सीधे उनके खातों में भेजती है। सरकार ने इस योजना को 2019 से शुरू किया। अब तक सरकार 8 किस्तों में 16000 रुपये तक पहुंच गई है। हालांकि, 8 वीं किस्त अभी भी कुछ किसानों के खाते में आना बाकी है। इसके साथ ही, सरकार किसानों को साहूकारों के चंगुल से बचाने के लिए किसान क्रेडिट कार्ड की मदद से सस्ते कर्ज मुहैया कराती है।

आपको बता दें कि अगर आप भी पीएम किसान के लाभार्थियों में शामिल हैं, तो मोदी सरकार आपको सस्ती दर पर ऋण भी प्रदान कर रही है। बता दें कि यह ऋण किसान क्रेडिट कार्ड (KCC) पर उपलब्ध है, जिसे स्व-विश्वसनीय भारत योजना (Atmanirbhar Bharat Yojana) के तहत बनाया गया है। सरकार ने पिछले साल इस योजना में प्रत्येक किसान को शामिल करने का निर्देश दिया था।

किसानों के लिए किसान क्रेडिट कार्ड योजना को प्रधानमंत्री किसान निधि योजना (PMSYM) से जोड़ा। इसके कारण किसानों को आसान किस्त और कम ब्याज पर ऋण मिल रहा है। अगर आपने इस सेवा का लाभ नहीं लिया है तो आप इसे ले सकते हैं।

ये बैंक देते हैं किसासन क्रेडिट कार्ड 

किसान जो केसीसी का निर्माण करना चाहते हैं वे सहकारी बैंक, क्षेत्रीय ग्रामीण बैंक, भारतीय राष्ट्रीय भुगतान निगम, भारतीय स्टेट बैंक (एसबीआई), बैंक ऑफ इंडिया और भारतीय औद्योगिक विकास बैंक (आईडीबीआई) से संपर्क कर सकते हैं।

यह भी पढ़े – पीएम किसान सम्मा निधि की आठवीं किस्त

KCC के लिए जरूरी दस्तावेज 

KCC फॉर्म पीएम किसान योजना वेबसाइट PMkisan.gov.in पर दिया गया है। इसमें स्पष्ट निर्देश है कि बैंक केवल 3 दस्तावेज लेकर ऋण दे सकते हैं। किसान क्रेडिट कार्ड बनाने के लिए आधार कार्ड, पैन कार्ड और लाभार्थी की फोटो का उपयोग किया जाता है। साथ ही, एक शपथ पत्र देना होगा, जिसमें कहा गया हो कि आपने किसी अन्य बैंक से ऋण नहीं लिया है। फरवरी 2020 तक, लगभग 6.67 करोड़ सक्रिय केसीसी खाते थे।

ब्याज की दरें क्या हैं

किसानों को केसीसी से 3 लाख रुपये तक का ऋण दिया जाता है। ऋण पर ब्याज 9 प्रतिशत है, लेकिन केसीसी पर सरकार 2% की सब्सिडी देती है। इससे किसान को केसीसी पर 7 प्रतिशत ब्याज पर ऋण मिलता है। अगर किसान समय से पहले कर्ज चुकाते हैं, तो उन्हें ब्याज पर 3% की छूट मिलती है, यानी कुल ब्याज 4% है।

किसान क्रेडिट कार्ड पाने का पूरा प्रोसेस 

  • KCC फॉर्म डाउनलोड करने के लिए pmkisan.gov.in पर जाएं।
  • वेबसाइट में फॉर्म टैब के दाईं ओर, डाउनलोड केकेसी फॉर्म विकल्प दिया गया है।
  • यहां से फॉर्म को प्रिंट करें और नजदीकी बैंक में जमा करें।
  • सरकार ने कार्ड की वैधता 5 साल रखी है।
Updated: November 26, 2021 — 7:54 am

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *