केजरीवाल सरकार के स्कूल मॉडल पर NITI Aayog भी उड़ता है, नेशनल अचीवमेंट सर्वे में दिल्ली को सबसे ज्यादा अंक मिले

[ad_1]

NITI Aayog ने बुधवार को दिल्ली के सरकारी स्कूलों के ऐतिहासिक कायाकल्प की सराहना की। दरअसल, सरकारी सहायता प्राप्त स्कूलों ने राष्ट्रीय उपलब्धि सर्वेक्षण (एनएएस) में सर्वोच्च अंक हासिल करने में देश की राजधानी की मदद की है।

भारत इनोवेशन इंडेक्स 2020 में सभी राज्यों ने औसतन 35.66 स्कोर किया है। सूचकांक के अनुसार, दिल्ली की उच्च आय और सरकारी स्कूलों के ऐतिहासिक कायाकल्प के कारण राजधानी दिल्ली ने सर्वोच्च NAS स्कोर (44.73) हासिल किया।

इसमें उल्लेख किया गया है कि राज्य का आय स्तर भी एक बड़ी भूमिका निभाता है। सूचकांक में कहा गया है कि सरकारी सहायता प्राप्त स्कूलों में अच्छी गुणवत्ता की शिक्षा सुनिश्चित करके NAS स्कोर बढ़ाने में भी राज्य महत्वपूर्ण योगदान दे सकते हैं।

इसे भी पढ़े: सिसोदिया ने कहा- गूगल ने योगी सरकार के मंत्री के झूठ का पर्दाफाश किया

सूचकांक के अनुसार, देश भर में इंजीनियरिंग और प्रौद्योगिकी पाठ्यक्रमों में नामांकन में कमी देखी गई। आंकड़ों के अनुसार, इंजीनियरिंग और प्रौद्योगिकी पाठ्यक्रमों में छात्रों का नामांकन देश के दक्षिणी हिस्सों में केंद्रित रहा, हालांकि पूर्वोत्तर राज्यों में यह आंकड़ा कम था।

गौरतलब है कि आम आदमी पार्टी (AAP), जिसने आगामी यूपी और उत्तराखंड विधानसभा चुनाव लड़ने की घोषणा की है, ने दोनों राज्यों की भाजपा सरकारों पर शिक्षा की अनदेखी का आरोप लगाना शुरू कर दिया है। इसके लिए दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने यूपी और उत्तराखंड के शिक्षा मंत्रियों को शिक्षा और स्कूलों पर किए गए काम पर खुली बहस की चुनौती दी है।

इसके साथ ही, आम आदमी पार्टी ने दोनों राज्यों में अपने नेताओं और कार्यकर्ताओं को शिक्षा प्रणाली की पोल खोलने और स्कूल भवनों को जीर्ण-शीर्ण करने का काम भी सौंपा है। AAP का दावा है कि भाजपा सरकारों द्वारा की जा रही सभी बेहतर शिक्षा खोखली है।

इसे भी पढ़े: केजरीवाल का रुख: योगी जी – स्कूल को ठीक करो, अगर तुम मनीष से नहीं आओगे

[ad_2]

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *