‘कॉन्ग्रेस टूलकिट’ मामला: BJP नेता संबित पात्रा को छत्तीसगढ़ पुलिस का नोटिस, पूछताछ के लिए बुलाया, समय सिर्फ शाम 4 बजे तक

कॉन्ग्रेस के कथित टूलकिट मामले में भाजपा प्रवक्ता संबित पात्रा को रायपुर पुलिस ने पूछताछ के लिए नोटिस जारी किया है। पात्रा को रविवार (23 मई) को शाम 4 बजे व्यक्तिगत तौर पर या वर्चुअली पेश होने के लिए कहा गया है। छत्तीसगढ़ NSUI के प्रदेश अध्यक्ष आकाश शर्मा की शिकायत पर रायपुर सिविल लाइन पुलिस ने एफआईआर दर्ज की और संबित पात्रा को पूछताछ के लिए नोटिस भेजा है।

छत्तीसगढ़ NSUI के प्रदेश अध्यक्ष आकाश शर्मा द्वारा भाजपा प्रवक्ता संबित पात्रा और राज्य के पूर्व मुख्यमंत्री रमन सिंह पर शिकायत दर्ज कराई गई है। शिकायत में दोनों भाजपा नेताओं पर यह आरोप लगाया गया है कि संबित पात्रा कॉन्ग्रेस के लेटरहेड के माध्यम से फर्जी दस्तावेज शेयर कर रहे हैं और टूलकिट के बहाने कॉन्ग्रेस पर झूठ आरोप लगा रहे हैं। वहीं रमन सिंह पर समुदायों के बीच तनाव उत्पन्न करने का आरोप लगाया गया है।

छत्तीसगढ़ NSUI की इस शिकायत के आधार पर रायपुर के सिविल लाइन थाना में एफआईआर दर्ज की गई है। साथ ही भाजपा नेता संबित पात्रा को रविवार (23 मई) को शाम 4 बजे पूछताछ के लिए पेश होने का नोटिस भेजा गया है। इस नोटिस में संबित पात्रा को या तो व्यक्तिगत तौर पर या वर्चुअल माध्यम से पेश होने के लिए कहा गया है। नोटिस में आदेश का पालन न करने पर वैधानिक कार्रवाई की चेतावनी भी दी गई है। ज्ञात हो कि संबित पात्रा के खिलाफ आईपीसी की धारा 504, 505(1) BC, 469 और 188 के तहत मामला दर्ज किया गया है।  

भाजपा नेता संबित पात्रा को भेजा गया नोटिस

आपको बता दें कि कुछ दिनों पहले कॉन्ग्रेस का कथित टूलकिट लीक हुआ जिसमें कोरोना वायरस के समय केंद्र की मोदी सरकार और उसके मंत्रियों को बदनाम करने के दिशा-निर्देश दिए गए हैं। इसके अलावा इस टूलकिट में विदेशी मीडिया से साँठ-गाँठ की बातें भी कही गई हैं। टूलकिट में हिंदुओं के महान पर्व कुंभ को भी बदनाम करने की साजिश की गई है।

इस टूलकिट के लीक होने के बाद से ही भाजपा नेताओं ने आरोप लगाए कि कॉन्ग्रेस भी देश के खिलाफ साजिश में शामिल है। इसके अलावा कॉन्ग्रेस पर यह भी आरोप लगाया गया है कि कोरोना वायरस के संक्रमण के इस दौर में सरकार की सहायता करने के स्थान पर कॉन्ग्रेस राजनीति कर रही है और चाइनीज वायरस के लिए ‘इंडियन स्ट्रेन’ जैसे शब्दों का उपयोग कर रही है। हालाँकि कॉन्ग्रेस इस टूलकिट को फर्जी बता रही है।

इसी क्रम में कॉन्ग्रेस ने ट्विटर को भी ईमेल किया था जिसके बाद ट्विटर ने टूलकिट से संबंधित कई ट्वीट्स में ‘मैनिपुलेटेड मीडिया’ टैग लगाया था। इनमें से अधिकांश ट्वीट भाजपा नेताओं के थे। इस मुद्दे पर सरकार ने ट्विटर को सख्त हिदायत दी थी कि टूलकिट मैनिपुलेटेड है या नहीं, यह जाँच एजेंसियाँ तय करेंगी।

हालाँकि, कॉन्ग्रेस ने इस मुद्दे पर एफआईआर दर्ज कराने की बात कही थी। इसके बाद ही टूलकिट मुद्दे पर प्रखरता से अपनी बात रखने वाले भाजपा नेता संबित पात्रा के खिलाफ कॉन्ग्रेस शासित छत्तीसगढ़ की राजधानी रायपुर में शिकायत दर्ज कराई गई।

Updated: November 26, 2021 — 6:22 pm

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *