गौरा के विकास में बनाया रेकार्ड, बदली क्षेत्र की सूरत

ख़बर सुनें

गोंडा। गौरा विधान सभा में विकास कार्यों से क्षेत्र के पिछड़ेपन को दूर किया। सड़क, बिजली, पानी, स्वास्थ्य, शिक्षा आदि के लिए कई परियोजनाएं धरातल पर उतरी हैं। पूरे विस क्षेत्र में सिर्फ अब 17 सड़कें जर्जर बची हैं उनके भी जीर्णोद्वार की योजनाएं प्रस्तावित हैं। विकास के मामले में अव्वल बनाने के लिए 1100 करोड़ से अधिक के बजट की परियोजनाएं शुरू की। यह दावा विधायक प्रभात वर्मा का है।
गौरा क्षेत्र में छपिया व बभनाजोत ब्लाक के सभी गांव हैं और मनकापुर के आंशकि गांव शामिल हैं। विधायक प्रभात वर्मा का कहना है कि अब यह क्षेत्र भी पिछड़े नहीं हैं, यहां अच्छी सड़कों की सौगात मिली है। स्वामी नारायण मंदिर तक सबसे महत्वपूर्ण सड़क का निर्माण 17 करोड़ से हुआ है।
इसके अलावा राज्य योजना से तीन प्रमुख सड़कों का निर्माण, राज्य सड़क निधि से 12 सड़कें और दो पुल, पूर्वांचल विकास योजना से तीन सड़कें, अनजुड़ी बसावट योजना से 45 सड़कें, नाबार्ड से छह बड़ी सड़कों का निर्माण कराया गया है। इसके अलावा विधायक निधि योजना से 65 सड़कों के निर्माण व मरम्मत के कार्य कराए गए हैं।
गन्ना विभाग से भी तीन सड़कों का निर्माण हुआ। इसके अलावा स्वास्थ्य के क्षेत्र में 9 योगा वेलनेस सेंटर, महेवा नानकार में किसानों के कृषि विज्ञान केंद्र, छपिया व बभनजोत में एक-एक किसान कल्याण केंद्र, माध्यमिक शिक्षा से हथियागढ़ में राजकीय बालिका इंटर कालेज, एक राजकीय इंटर कालेज का निर्माण और राजकीय आईटीआई का निर्माण घारीघाट में हो रहा है।
इसके अलावा गांव के लोगों की सुविधा के लिए हथियागढ़ में सदभाव मंडप व मैरिज हाल का निर्माण हो रहा है। परसा तिवारी व देवरिया मद्दोंपुर में 33 केवी के विद्युत उपकेंद्र का निर्माण हुआ और घारीघाट में 47 करोड़ से एक बड़ा उपकेंद्र का शिलान्यास हुआ है।
सैदापुर, केशवनगर ग्रंट, शीतलगंज ग्रंट व तालागंज में नलकूप का निर्माण कराया गया। गौरा क्षेत्र में बेसिक शिक्षा से 38 प्राइमरी स्कूलों को अंग्रेजी मीडियम से संचालित किया गया। बताया कि इन परियोजनाओं पर 1100 करोड़ से अधिक का बजट दिया गया है।

गोंडा। गौरा विधान सभा में विकास कार्यों से क्षेत्र के पिछड़ेपन को दूर किया। सड़क, बिजली, पानी, स्वास्थ्य, शिक्षा आदि के लिए कई परियोजनाएं धरातल पर उतरी हैं। पूरे विस क्षेत्र में सिर्फ अब 17 सड़कें जर्जर बची हैं उनके भी जीर्णोद्वार की योजनाएं प्रस्तावित हैं। विकास के मामले में अव्वल बनाने के लिए 1100 करोड़ से अधिक के बजट की परियोजनाएं शुरू की। यह दावा विधायक प्रभात वर्मा का है।

गौरा क्षेत्र में छपिया व बभनाजोत ब्लाक के सभी गांव हैं और मनकापुर के आंशकि गांव शामिल हैं। विधायक प्रभात वर्मा का कहना है कि अब यह क्षेत्र भी पिछड़े नहीं हैं, यहां अच्छी सड़कों की सौगात मिली है। स्वामी नारायण मंदिर तक सबसे महत्वपूर्ण सड़क का निर्माण 17 करोड़ से हुआ है।

इसके अलावा राज्य योजना से तीन प्रमुख सड़कों का निर्माण, राज्य सड़क निधि से 12 सड़कें और दो पुल, पूर्वांचल विकास योजना से तीन सड़कें, अनजुड़ी बसावट योजना से 45 सड़कें, नाबार्ड से छह बड़ी सड़कों का निर्माण कराया गया है। इसके अलावा विधायक निधि योजना से 65 सड़कों के निर्माण व मरम्मत के कार्य कराए गए हैं।

गन्ना विभाग से भी तीन सड़कों का निर्माण हुआ। इसके अलावा स्वास्थ्य के क्षेत्र में 9 योगा वेलनेस सेंटर, महेवा नानकार में किसानों के कृषि विज्ञान केंद्र, छपिया व बभनजोत में एक-एक किसान कल्याण केंद्र, माध्यमिक शिक्षा से हथियागढ़ में राजकीय बालिका इंटर कालेज, एक राजकीय इंटर कालेज का निर्माण और राजकीय आईटीआई का निर्माण घारीघाट में हो रहा है।

इसके अलावा गांव के लोगों की सुविधा के लिए हथियागढ़ में सदभाव मंडप व मैरिज हाल का निर्माण हो रहा है। परसा तिवारी व देवरिया मद्दोंपुर में 33 केवी के विद्युत उपकेंद्र का निर्माण हुआ और घारीघाट में 47 करोड़ से एक बड़ा उपकेंद्र का शिलान्यास हुआ है।

सैदापुर, केशवनगर ग्रंट, शीतलगंज ग्रंट व तालागंज में नलकूप का निर्माण कराया गया। गौरा क्षेत्र में बेसिक शिक्षा से 38 प्राइमरी स्कूलों को अंग्रेजी मीडियम से संचालित किया गया। बताया कि इन परियोजनाओं पर 1100 करोड़ से अधिक का बजट दिया गया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *