चर्च की आड़ में सेक्स रैकेट चला रहा था पादरी, लग्जरी गाड़ियों में आते थे पुरुष-महिलाएँ, तमिलनाडु में 7 गिरफ्तार

तमिलनाडु के कन्याकुमारी से चर्च की आड़ में सेक्स रैकेट चलाने का मामला प्रकाश में आया है। ‘द कम्युन’ की रिपोर्ट में कहा गया है कि पुलिस ने चर्च की आड़ में सेक्स रैकेट चलाने के आरोप में लाल एन एस शाइन सिंह नाम के एक पादरी और चार महिलाओं समेत सात लोगों को गिरफ्तार किया है।

रिपोर्ट्स के मुताबिक, बुधवार (14 जुलाई 2021) को तमिलनाडु पुलिस ने कन्याकुमारी जिले के एसटी मंगडु क्षेत्र के ज्योति नगर में स्थित ड्यूसिस ऑफ क्राइस्ट एंग्लिकन चर्च ऑफ इंडिया से जुड़े फेडरल चर्च ऑफ इंडिया में छापा मारा। दरअसल, पुलिस को सूचना मिली थी कि इस चर्च में कई पुरुष और महिलाएँ लग्जरी कारों में अक्सर आते हैं।

फेडरल चर्च ऑफ इंडिया कथित तौर पर कन्याकुमारी जिले के सबसे बड़े चर्चों में से एक है और सेक्स रैकेट चलाने के आरोपित पादरी बिशप लाल एन एस शाइन सिंह इस चर्च के संस्थापक और अध्यक्ष हैं। पुलिस को शुरुआती जाँच में पता चला है कि चर्च के अधिकारियों ने परिसर का इस्तेमाल वेश्यालय चलाने के लिए किया है। इसी को लेकर मिले इनपुट के बाद पुलिस ने चर्च में छापा मारकर कई महिलाओं और पुरुषों को रंगे हाथ पकड़ डाला।

रिपोर्ट में कहा गया है कि गिरफ्तार की गई आरोपित महिलाओं में एक 19 साल की लड़की भी शामिल है। इस लड़की को उसकी माँ ने ही जबरन देह व्यापार के दलदल में धकेला है।

बहरहाल, तमिलनाडु पुलिस ने चर्च के पादरी और चार महिलाओं समेत सात लोगों को गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस की पूछताछ में आरोपित पादरी और शिबिन नाम के एक व्यक्ति ने सेक्स रैकेट चलाने की बात कबूल कर ली है।

तमिलनाडु पुलिस ने पादरी और छह अन्य के खिलाफ निथिरविलई पुलिस स्टेशन में मामला दर्ज कर लिया है और आगे की छानबीन कर रही है।

Updated: October 2, 2021 — 12:14 am

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *