जिम्मेदार ही लापरवाह: स्क्रीन पर सीएम दे रहे थे नसीहत, जिलाध्यक्ष व अन्य भाजपाई बिना मास्क बैठे और घूमते रहे

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

हरदा9 घंटे पहले

  • कॉपी लिंक
  • मंडी में लगे कृषि विज्ञान मेले में सत्ताधारी दल के नेताओं ने किया कोरोना प्रोटोकाॅल का उल्लंघन
  • भीड़ में मास्क नहीं लगाने का कारण पूछने पर जिलाध्यक्ष बोले- गलती हो गई अब ध्यान रखूंगा

सीएम शिवराज सिंह चाैहान ने स्क्रीन पर कहा कि जाे लाेग मास्क नहीं लगाते वे अपने साथ ही नहीं अपनाें के साथ भी खिलवाड़ कर रहे हैं। उन्हें मास्क लगाना चाहिए। लेकिन उनकी पार्टी (भाजपा) के जिलाध्यक्ष अमर सिंह मीणा, जिला पंचायत उपाध्यक्ष मनीष निशाेद मंगलवार काे मंडी में आयाेजित कृषि विज्ञान मेले में मास्क गले में टांगे मंच सहित अन्य जगह घूमते रहे। वहीं दर्शकाें की पहली कतार में बैठे भाजपा किसान माेर्चा जिलाध्यक्ष ठाेढ़ी पर मास्क लगाए रहे। ग्रामीण क्षेत्राें से आए कई किसानाें ने मास्क मुंह की बजाए गले में लगा रखा था, लेकिन उन्हें किसी ने नहीं टाेका।

इस कार्यक्रम में कृषि मंत्री कमल पटेल, कलेक्टर सहित तमाम अधिकारी माैजूद थे। सुबह 11 बजे दाे मिनट तक सायरन बजा। इसमें अधिकारी और जनप्रतिनिधि लाेगाें काे जागरूक करने सड़काें पर उतरे। इसमें नपाध्यक्ष सुरेंद्र जैन, भाजपा जिलाध्यक्ष अमरसिंह मीणा सहित अन्य शामिल थे। लेकिन दोपहर में मेले में भाजपा जिलाध्यक्ष खुद ही मास्क लगाना भूल गए। किसान माेर्चा के जिलाध्यक्ष रामेश्वर रिणवा, उनके बाजू में बैठे व्यक्ति ने मास्क मुंह पर नहीं लगाया।

जिलाध्यक्ष ने मानी गलती बाेले- हमेशा लगाऊंगा मास्क

भाजपा जिलाध्यक्ष मीणा ने कहा कि मंच पर उद्बाेधन देने या फिर मोबाइल पर बात करने के बाद मास्क लगाने का ध्यान नहीं रहा हाेगा। यह गलती हुई है। उन्होंने कहा कि मैं खुद अब से हर समय मास्क लगाऊंगा और दूसराें काे भी इसके लिए प्रेरित करूंगा। इधर कृषि विज्ञान मेले में आधुनिक तकनीक, जैविक खेती सहित अन्य याेजनाओं की जानकारी देने स्टाॅल लगाए गए। किसान स्टाल पर याेजनाओं की जानकारी लेने पहुंचे। इस दाैरान कई स्टाॅलाें पर बैठे लाेगाें ने मास्क नहीं लगाया। किसान भी बिना मास्क के ही पूछताछ करते रहे। उन्हें किसी ने नहीं टाेका।

कृषि मंत्री ने दी याेजनाओं की जानकारी, प्रमाण पत्र बांटे
कार्यक्रम में कृषि मंत्री पटेल ने कहा कि भाजपा सरकार खेती काे लाभ का धंधा बनाने के लिए संकल्पित है। इस दाैरान पटेल ने आत्मा योजना में आयाेजित देसी डिप्लोमा प्रशिक्षण कार्यक्रम के प्रथम बैच के उत्तीर्ण 38 कृषि आदान विक्रेताओं काे प्रमाण पत्र बांटे। सीएम के कार्यक्रम का लाइव प्रसारण किया। इसमें उन्होंने बताया कि मुख्यमंत्री किसान कल्याण योजना में प्रदेश के 17 लाख किसानों को 340 करोड़ रुपए, राहत राशि की दूसरी किस्त के 30 लाख किसानों को 1530 करोड़ रुपए बांटे हैं। इसमें हरदा जिले के किसानाें के 89.12 कराेड़ रुपए शामिल हैं।

किसानाें के लिए बनाए जाएंगे किसान सम्मान कार्ड : पटेल

कृषि मंत्री पटेल ने कहा कि हरदा मंडी को आधुनिक बनाया जाएगा। किसानों के लिए एयर कूल्ड विश्रामगृह बनेगा। उन्होंने कहा कि किसानों के लिए किसान सम्मान कार्ड बनाए जाएंगे। इसमें किसानों की पूरी जानकारी हाेगी। मंडी परिसर में ही किसानों के लिए दैनिक उपयोग की वस्तुओं एवं कृषि उपयोग सामग्री एवं उपकरण उपलब्ध कराए जाएंगे। इसके लिए मंडी में कैंटीन की व्यवस्था की जाएगी। मंडी में सड़कों का चौड़ीकरण एवं सौंदर्यीकरण कराया जाएगा। कार्यक्रम में मुख्यमंत्री पथ विक्रेता के 120 हितग्राहियों को 12 लाख रुपए की राशि के प्रमाण पत्र बांटे।

विनाेद रामसिंह के नाम खुला बंपर ड्रा, मिलेगा ट्रैक्टर

मेले में कृषि विपणन पुरस्कार योजना के ड्रा खाेले गए। 1 अगस्त 2019 से 31 जनवरी 2020 तक के विजेता किसानाें को 1 लाख 4 हजार के अलग-अलग इनाम तथा 1 फरवरी 2020 से 31 जुलाई 2020 तक के विजेता किसानाें काे 1 लाख 4 हजार रुपए के अलग-अलग इनाम खाेले गए। इसमें बंपर ड्रा निकाला गया। इसमें किसान विनोद पिता रामसिंह निवासी मंझली का 35 हार्स पावर का ट्रैक्टर इनाम में निकला। कार्यक्रम में डीडीए एमपीएस चन्द्रावत, मंडी सचिव संजीव श्रीवास्तव, सहायक संचालक कृषि कपिल बेड़ा सहित अन्य माैजूद थे।

खबरें और भी हैं…

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *