तमिलनाडु: राहुल का केंद्र पर निशाना, कहा- जनता महंगाई से त्रस्त, सरकार टैक्स वसूली में मस्त

No Comments
तमिलनाडु: राहुल का केंद्र पर निशाना, कहा- जनता महंगाई से त्रस्त, सरकार टैक्स वसूली में मस्त

न्यूज डेस्क, अमर उजाला, नई दिल्ली
Updated Sun, 24 Jan 2021 12:33 PM IST

पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर
कहीं भी, कभी भी।

*Yearly subscription for just ₹299 Limited Period Offer. HURRY UP!

ख़बर सुनें

कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी दो दिन के दौरे पर तमिलनाडु पहुंचे है। आज उनके दौरे का दूसरा दिन है। वे अक्सर कई मुद्दों को लेकर केंद्र सरकार पर हमला बोलते रहते हैं। रविवार को उन्होंने मंहगाई के मुद्दे पर मोदी सरकार को घेरा है। उन्होंने ट्वीट करके सरकार पर निशाना साधा है। रसोई गैस और पेट्रोल-डीजल की बढ़ती कीमतों को लेकर राहुल ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व वाली एनडीए सरकार पर तंज कसा है।

राहुल गांधी ने ट्वीट कर कहा, ‘मोदी जी ने ‘जीडीपी’ यानी गैस-डीजल-पेट्रोल के दामों में जबरदस्त विकास कर दिखाया है! जनता महंगाई से त्रस्त, मोदी सरकार टैक्स वसूली में मस्त।’ अपने ट्वीट के साथ वायनाड से सांसद ने एक अखबार का स्क्रीनशॉट भी शेयर किया है जिसमें तेल और गैस की बढ़ती कीमतों की तुलना की गई है।

राहुल ने जो स्क्रीनशॉट शेयर किया है उसमें बताया गया है कि एक जुलाई, 2020 को जयपुर में रसोई गैस के प्रति सिलेंडर की कीमत 594.5 रुपये थी जबकि सात जनवरी, 2021 को यह रकम 698 रुपये हो गई। वहीं जयपुर में एक जुलाई 2020 को डीजल का दाम 81.32 रुपये लीटर था जबकि जनवरी, 2021 में यह 83.64 रुपये हो चुका है। राहुल ने पेट्रोल के दामों को लेकर लिखा है कि साल एक जुलाई 2020 को पेट्रोल की कीमत 87.57 रुपये थी जो सात जनवरी 2021 को 91.63 रुपये हो गई।

एक सप्ताह में चौथी बार कीमतों में वृद्धि के बाद देश में पेट्रोल और डीजल की कीमतों के अब तक की सर्वाधिक ऊंचाई पर पहुंचने के एक दिन बाद कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष ने यह टिप्पणी की है। गौरतलब है कि कीमतों में वृद्धि के बाद दिल्ली में पेट्रोल के दाम 85.70 रुपए प्रति लीटर और मुंबई में 92.28 रुपए प्रति लीटर हो गए हैं। इसी प्रकार से दिल्ली में डीजल के दाम 75.88 रुपए प्रति लीटर और मुंबई में 82.66 रुपए प्रति लीटर हो गए हैं।

कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी दो दिन के दौरे पर तमिलनाडु पहुंचे है। आज उनके दौरे का दूसरा दिन है। वे अक्सर कई मुद्दों को लेकर केंद्र सरकार पर हमला बोलते रहते हैं। रविवार को उन्होंने मंहगाई के मुद्दे पर मोदी सरकार को घेरा है। उन्होंने ट्वीट करके सरकार पर निशाना साधा है। रसोई गैस और पेट्रोल-डीजल की बढ़ती कीमतों को लेकर राहुल ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व वाली एनडीए सरकार पर तंज कसा है।

राहुल गांधी ने ट्वीट कर कहा, ‘मोदी जी ने ‘जीडीपी’ यानी गैस-डीजल-पेट्रोल के दामों में जबरदस्त विकास कर दिखाया है! जनता महंगाई से त्रस्त, मोदी सरकार टैक्स वसूली में मस्त।’ अपने ट्वीट के साथ वायनाड से सांसद ने एक अखबार का स्क्रीनशॉट भी शेयर किया है जिसमें तेल और गैस की बढ़ती कीमतों की तुलना की गई है।

राहुल ने जो स्क्रीनशॉट शेयर किया है उसमें बताया गया है कि एक जुलाई, 2020 को जयपुर में रसोई गैस के प्रति सिलेंडर की कीमत 594.5 रुपये थी जबकि सात जनवरी, 2021 को यह रकम 698 रुपये हो गई। वहीं जयपुर में एक जुलाई 2020 को डीजल का दाम 81.32 रुपये लीटर था जबकि जनवरी, 2021 में यह 83.64 रुपये हो चुका है। राहुल ने पेट्रोल के दामों को लेकर लिखा है कि साल एक जुलाई 2020 को पेट्रोल की कीमत 87.57 रुपये थी जो सात जनवरी 2021 को 91.63 रुपये हो गई।

एक सप्ताह में चौथी बार कीमतों में वृद्धि के बाद देश में पेट्रोल और डीजल की कीमतों के अब तक की सर्वाधिक ऊंचाई पर पहुंचने के एक दिन बाद कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष ने यह टिप्पणी की है। गौरतलब है कि कीमतों में वृद्धि के बाद दिल्ली में पेट्रोल के दाम 85.70 रुपए प्रति लीटर और मुंबई में 92.28 रुपए प्रति लीटर हो गए हैं। इसी प्रकार से दिल्ली में डीजल के दाम 75.88 रुपए प्रति लीटर और मुंबई में 82.66 रुपए प्रति लीटर हो गए हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *