‘तुम्हारी लड़कियों को फँसा कर रोज… ‘: ‘भीम आर्मी’ के कार्यकर्ता का ऑडियो वायरल, पंडितों-ठाकुरों को मारने का दावा

चंद्रशेखर आज़ाद उर्फ़ ‘रावण’ द्वारा स्थापित राजनीतिक दल ‘भीम आर्मी’ के एक कार्यकर्ता दीपू कुमार ने ब्राह्मणों और सामान्य वर्ग के लोगों को गंदी-गंदी गालियाँ देते हुए धमकी दी है, जिसका ऑडियो सोशल मीडिया पर भी सामने आया है। वो न सिर्फ सामान्य वर्ग की बहू-बेटियों के साथ बलात्कार की धमकी दे रहा है, बल्कि ‘सवर्णों’ को जान से मार डालने की बातें भी कर रहा है। उसने ‘आज़ाद सेना’ के अध्यक्ष अभिषेक आज़ाद के साथ फोन कॉल पर ये बातें कही।

ये ऑडियो मंगलवार (जून 8, 2021) की रात का है, जब उसने फोन कर के आपत्तिजनक टिप्पणियाँ की। सोशल मीडिया पर ऑडियो के वायरल होने के बाद लोगों ने ‘अरेस्ट भीम आर्मी वर्कर’ का ट्रेंड भी चलाया और साथ ही उसकी अभद्र भाषा को लेकर उसे कड़ी सज़ा देने की माँग की। इस ऑडियो में दीपू कुमार ब्राह्मण और राजपूत समाज को जान से मार डालने की धमकी देते हुए गंदी-गंदी गालियाँ बकते सुना जा सकता है।

इस ऑडियो में वो धमकी दे रहा है कि एक बार उत्तर प्रदेश में सरकार बदल जाए, फिर वो बता देगा। उसने अखिलेश यादव की समाजवादी पार्टी और मायावती की बहुजन समाज पार्टी का नाम लेते हुए कहा कि उसकी पहुँच इन सभी दलों में है। जब इधर से अभिषेक आज़ाद ने पूछा कि क्या ये दल तुम्हें ब्राह्मण लड़कियों को ‘फँसाने’ को कहते हैं? इस पर उसने जवाब दिया, “फँसानी किसे है? लेनी है, ले लेते हैं।”

उसने साथ ही ये भी दावा किया कि आर्य समाज के लोगों को पंडितों को काटा। दीपू कुमार ने फोन कॉल पर घृणित बयान देते हुए कहा कि उसने कई ब्राह्मण और राजपूत लड़कियों का बलात्कार किया है और पंडितों और ठाकुरों को मौत के घाट उतारा है। उसने कहा, “तुमलोग कुछ नहीं कर सकते। हमने तुम्हारी लड़कियों को लालच देकर फँसा लिया है। मेरे दोस्त रोज तुम्हारी लड़कियों के साथ सेक्स करते हैं।”

इस खबर में उसने किसी नारायण दुबे का नाम लेते हुए उनकी हत्या की जिम्मेदारी अपने सिर पर ली। साथ ही अभिषेक आज़ाद का नंबर लीक करने की भी धमकी दी। उसने कहा कि तुमलोग मात्र 3.5% हो और तुमने पूरे देश को भ्रष्ट बना दिया है। साथ ही दीपू ने हिन्दू-मुस्लिम विभाजन और सांप्रदायिक दंगों का आरोप ब्राह्मण-राजपूत पर मढ़ते हुए कहा कि जब भी मुस्लिमों से लड़ना होता है, दलितों को लड़वा देते हो।

दरअसल, वो अभिषेक आज़ाद से इसीलिए भड़का हुआ था क्योंकि फेसबुक पर उन्होंने आरक्षण के खिलाफ एक पोस्ट लिखा था। उसने अभिषेक को जान से मारने की भी धमकी दी है। उसने दावा किया कि दो महीने पहले एक पंडित की हत्या में वो जेल खट कर आया है और मौका मिलने पर फिर ऐसा करेगा। ‘फलाना दिखाना’ की खबर के अनुसार, दीपू ने कहा कि उसे पुलिस का डर नहीं है और वो आरक्षण विरोधियों को मार डालेगा।

इटावा पुलिस ने इस घटना का संज्ञान लेते हुए कहा कि इस प्रकरण के संबंध में वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक इटावा द्वारा संज्ञान लिया गया है आवश्यक वैधानिक कार्यवाही प्रचलित है। एडीजी जोन कानपुर ने इटावा पुलिस को निर्देश दिया कि वो आवश्यक वैधानिक कार्यवाही कर उन्हें अवगत कराए। वहीं अभिषेक आज़ाद ने कहा कि ‘भीम आर्मी’ के पदाधिकारियों द्वारा उन्हें अब भी फोन पर तरह-तरह की धमकियाँ मिल रही हैं।

Leave a Comment