दिल्ली के पास थी 11 लाख वैक्सीन, फिर 21 जून को सिर्फ 76,000 को क्यों लगा टीका: केजरीवाल सरकार से BJP ने किया सवाल

21 जून से देश भर में शुरू हुए महा वैक्सीनेशन अभियान के तहत जहाँ एक दिन में 86 लाख से ज्यादा टीके लगाए गए। वहीं दिल्ली में वैक्सीन को लेकर राजनीति अब भी थमी नहीं। मध्य प्रदेश में जहाँ जनता को वैक्सीन लगाने का रिकॉर्ड कायम हुआ। वहीं दिल्ली की आम आदमी पार्टी ये कहती रही कि ये अभियान सिर्फ नाम मात्र है। अब इन लगातार आरोपों के बाद भाजपा ने दिल्ली की केजरीवाल सरकार से कुछ सवाल किए हैं। 

दिल्ली की भाजपा ईकाई ने कहा कि केजरीवाल सरकार वैक्सीन पर ओछी राजनीति से दिल्ली के लोगों की जान को खतरे में डाल रहे हैं। भाजपा अध्यक्ष आदेश गुप्ता पूछते हैं कि 21 जून को केजरीवाल सरकार के पास 11 लाख से अधिक वैक्सीन थी, फिर भी सेंटरों पर वैक्सीन की कमी क्यों थी।

अगले सवाल में आदेश गुप्ता पूछते हैं कि जब 21 जून को देश भर में 86 लाख से अधिक टीकाकरण हुआ तो दिल्ली में केवल 76000 लोगों को वैक्सीन क्यों लगा? वह पूछते हैं कि केजरीवाल सरकार जनता में भ्रम फैलाने का काम क्यों कर रही हैं। आखिर पीएम मोदी द्वारा भिजवाई गई फ्री कोविड वैक्सीन कहाँ गई।

आदेश गुप्ता सवाल करते हैं कि जब हर राज्य का सीएम वैक्सीन सेंटरों का दौरा कर रहे हैं तो दिल्ली के मुख्यमंत्री गायब क्यों हैं। आखिर जो उन्होंने 2700 सेंटर खोलने की बात कही थी तो अभी तक पर्याप्त वैक्सीन सेंटर क्यों नहीं बनाए गए हैं।

गौरतलब है कि दिल्ली में वैक्सीन को लेकर राजनीति आज सुबह से ही तेज हो रखी है। उप मुख्यमंत्री मनीष सिसौदिया ने जहाँ बताया कि उन्हें जून के महीने में वैक्सीन नहीं मिली। वहीं स्वास्थ्य मंत्री डॉ हर्षवर्धन ने उनपर निशाना साधते हुए तंज कसा।

डॉ हर्षवर्धन ने लिखा ” ‘झूठई लेना, झूठई देना, झूठई भोजन, झूठ चबेना’ यानि कुछ लोग झूठ ही स्वीकार करते हैं, झूठ ही दूसरों को देते हैं, झूठ का ही भोजन करते हैं व झूठ ही चबाते हैं। रामचरित मानस की यह चौपाई दिल्ली के CM अरविंद केजरीवाल और उनके मंत्रियों पर सटीक बैठती है।”

इस ट्वीट पर मनीष सिसौदिया ने जवाब दिया और कहा, “डॉक्टर साहब! क्या भारत सरकार दिल्ली के लिए 21 जून के बाद वैक्सीन की कोई सप्लाई देने जा रही है या दिल्ली सरकार ने जो वैक्सीन ख़रीदी थीं, जून में केवल उतनी ही मिलेंगी? जुलाई के महीने में भी दिल्ली के लिए केवल 15 लाख वैक्सीन? आप खुद ही सोचिए इस दर से तो अभी 15-16 महीने लगेंगे।”

इसी प्रकार आप नेता आतिशी ने भी भाजपा का प्रोपगेंडा एक्सपोज करने का दावा करते हुए बताया कि दिल्ली में 18 से ऊपर वालों के लिए वैक्सीन की शॉर्टेज है और 45 से ऊपर वालों के लिए वैक्सीन ज्यादा है। ऐसे में उन लोगों ने अनुमति माँगी थी कि 45 से ऊपर वालों की वैक्सीन 18+ ग्रुप को दी जाए, लेकिन बहुत अनुरोध के बाद आज जाकर इस पर सुनवाई हुई।

Leave a Comment