दिल्ली में हिंसा के बाद हरियाणा में हाई अलर्ट, DGP बोले- उपद्रवियों को बख्शा नहीं जाएगा

डिजिटल डेस्क, चंडीगढ़। राष्ट्रीय राजधानी में मंगलवार की ट्रैक्टर रैली के दौरान हुई हिंसा को अस्वीकार्य बताते हुए हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने राज्य में हाई अलर्ट का आदेश दिया। उन्होंने पुलिस महानिदेशक मनोज यादव को निर्देश दिया कि यह सुनिश्चित किया जाए कि राज्य में कानून व्यवस्था किसी भी कीमत पर बिगड़े नहीं। खट्टर ने यहां राज्य के शीर्ष अधिकारियों के साथ एक उच्च-स्तरीय बैठक में स्थिति की समीक्षा करने के बाद यह निर्णय लिया। पुलिस महानिदेशक ने राज्य के सभी जिला कप्तानों को उपद्रवियों पर नियंत्रण के लिए कड़े निर्देश देते हुए कहा कि उपद्रवियों और दंगाइयों को नहीं बख्शा जाए।

आधिकारिक सूत्रों ने आईएएनएस को बताया कि एहतियात के तौर पर राष्ट्रीय राजधानी से सटे फरीदाबाद जिले में प्रतिबंधात्मक आदेश लागू किए गए हैं। सूत्रों के अनुसार, गलत सूचना के प्रसार की जांच के लिए अधिकारियों ने बुधवार को शाम 5 बजे तक तीन जिलों सोनीपत, झज्जर और पलवल में इंटरनेट और एसएमएस सेवाओं को निलंबित कर दिया है।

पुलिस अब किसी तरह का कोई रिस्क नहीं लेगी
हरियाणा के पुलिस महानिदेशक (डीजीपी) मनोज यादव ने मंगलवार को चेतावनी देते हुए कहा कि पुलिस अब किसी तरह का कोई रिस्क नहीं लेगी। उन्होंने कहा कि कोई भी सरकारी कार्यालयों, वाहनों सहित राज्य सरकार की संपत्ति को नुकसान पहुंचाने और कानून-व्यवस्था को बिगाड़ने की कोशिश करता है तो पुलिस बल प्रयोग करने से नहीं हिचकेगी।

कल शाम 5 बजे तक की पाबंदी
इस बीच हरियाणा सरकार ने दिल्ली के साथ लगते जिलों में टेलिकॉम सर्विस बंद करने का ऐलान किया है। गृह सचिव राजीव अरोड़ा ने जारी आदेश में कहा कि सोनीपत, पलवल और झज्जर में इंटरनेट सर्विस और एसएमएस सेवाएं बंद रहेंगी। हालांकि इस दौरान केवल वॉइस कॉल ही एक्टिवेट रहेगी। गृह सचिव ने कहा कि मंगलवार को तत्काल प्रभाव से कल बुधवार शाम 5 बजे तक सेवाएं बंद कर दी गई हैं। अफवाहों और गलत सूचना के फैलने को रोकने के लिए इन सेवाओं को बंद कर दिया गया है।

दंगा भड़काने वालों को हिरासत में लिया जाएगाः DGP
राज्य पुलिस महानिदेशक मनोज यादव ने कहा कि प्रदेश में कानून-व्यवस्था को बिगाड़ने का प्रयास करने वालों से पुलिस सख्ती से निपटेगी। उन्होंने कहा कि हिंसा करने वालों या अफवाहों के माध्यम से दंगा भड़काने वालों को हिरासत में लेकर उन्हें उनके अंजाम तक पहुंचाया जाएगा। किसान आंदोलन को लेकर हरियाणा में हाई अलर्ट है। डीजीपी मनोज यादव ने सभी राज्यों के जिला कप्तानों को निर्देश दिए हैं कि किसी भी सूरत में उपद्रवियों और दंगाइयों को नहीं बख्शा जाएगा। राज्य पुलिस बल 24 घंटे मुस्तैदी के साथ हाई रिस्क प्वांइटस पर गश्त भी करेगा।



Home

Categories Uncategorized

Leave a Comment