पाकिस्‍तानी विदेश मंत्री ने लाइव इंटरव्‍यू में लगाए इजरायल पर ”बिना सबूत” गंभीर आरोप, एंकर ने लताड़ते हुए कहा, ‘यहूदी विरोधी’

पाकिस्‍तान के व‍िदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी ने एक लाइव इंटरव्यू में इजरायल के खिलाफ विवादित टिप्पणी की, जिसके लिए एंकर ने उन्हें यहूदी-विरोधी करार दिया। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, गुरुवार (20 मई 2021) को टीवी चैनल सीएनएन के लाइव इंटरव्‍यू में कुरैशी ने बिना किसी ठोस सबूत के कहा कि इजरायल ”डीप पॉकेट्स” (अत्यधिक पैसे के लिए प्रयोग किया जाने वाला अमेरिकी स्लैंग) के बावजूद ”मीडिया युद्ध” में हार रहा है। पाकिस्तानी विदेश मंत्री ने आरोप लगाया क‍ि इजरायल मीडिया को न‍ियंत्रित कर रहा है। अपने इस बयान को लेकर अमेरिकी न्यूज चैनल की यहूदी एंकर का विरोध झेलना पड़ा।

संयुक्‍त राष्‍ट्र में इजरायल को घेरने के लिए अमेरिका पहुँचे कुरैशी ने गुरुवार (20 मई 2021) को एक लाइव इंटरव्यू में इजराइल-हमास संघर्ष पर चर्चा के दौरान कहा कि इजरायल हार रहा है। अपने संबंधों के बाद भी वह मीडिया युद्ध में हार रहा है। इसको लेकर उन्हें सीएनएन की एंकर की कड़ी प्रतिक्रिया का सामना करना पड़ा।

पाकिस्तानी विदेश मंत्री ने इजरायल को बताया मीडिया को नियंत्रित करने वाला

दरअसल, सीएनएन की एंकर बियाना गोलोड्रीगा (Bianna Golodryga) के साथ इंटरव्‍यू में अपने बड़बोलेपन के लिए कुख्यात कुरैशी ने कहा, ”इजरायल के पास “डीप पॉकेट” है और वह मीडिया को नियंत्रित करता है। अपने संबंधों के बावजूद इजरायल हमास के खिलाफ अपनी लड़ाई में मीडिया युद्ध में हार रहा है।” गोलोड्रीगा ने पूछा कि आप किस तरह के संबंध की बात कर रहे हैं। इसको लेकर कुरैशी ने हँसते हुए जवाब दिया, ”हाहाहा डीप पॉकेट।” इसका मतलब पूछे जाने पर पाकिस्‍तानी विदेश मंत्री ने कहा कि ”इजरायल मीडिया को नियंत्रित करता है।” वे बहुत प्रभावशाली हैं।” इस पर यहूदी एंकर ने पाकिस्तान के मंत्री को करारी फटकार लगाते हुए कहा कि आप यहूदी विरोधी हैं।

मैं इसे यहूदी विरोधी टिप्‍पणी मानती हूँ: CNN एंकर

कुरैशी के इस बयान पर गोलोड्रीगा ने उन्हें घेरते हुए कहा, ”मैं इसे यहूदी विरोधी टिप्‍पणी मानती हूँ।” इस पर मंत्री ने जोर देकर कहा कि वह यहूदी विरोधी बातचीत को सही नहीं ठहरा रहे हैं, तो सीएनएन की एंकर ने कुरैशी पर पलटवार करते हुए कहा कि उन्होंने एक यहूदी विरोधी बयान के साथ अपनी बातचीत शुरू की। एंकर ने कहा कि मुझे खेद है कि मैं व्यक्तिगत रूप से एक पत्रकार के रूप में आपकी बातों से आहत हूँ। आपने यह सुझाव देकर शुरुआत की है कि मीडिया में इजरायल के करीबी और शक्तिशाली दोस्त हैं। यह एक यहूदी विरोधी बयान है। गोलोड्रीगा द्वारा कुरैशी को लताड़ने का पूरा वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है।

इसके बाद जब सीएनएन की एंकर ने चीन में उइगर मुस्लिमों के खिलाफ अत्‍याचार के मुद्दे को उठाया तो वह बगले झाँकने लगे। कुरैशी ने कहा कि वह इसके बारे में सार्वजनिक रूप से कोई टिप्‍पणी नहीं करेंगे।

कुरैशी ने आगे कहा, “मैं किसी भी रॉकेट हमले को सही नहीं ठहराऊँगा और मैं हवाई हमलों को भी सही नहीं ठहरा सकता, जो इजरायल द्वारा किए जा रहे हैं। मैं इसके लिए उन्हें माफ नहीं कर सकता।”

इंटरव्यू के कुछ मिनट बाद जब कुरैशी ने सुझाव दिया कि फिलिस्तीनियों और इजरायलियों के लिए युद्धविराम एकमात्र विकल्प है, तो यहूदी एंकर पूछती हैं कि क्या पाक मंत्री द्वारा सुझाए गए समाधानों में यहूदी विरोध शामिल है।

इससे पहले कुरैशी ने संयुक्‍त राष्‍ट्र सुरक्षा परिषद से अपील की थी कि फिलिस्तीन में हिंसा को बंद कराया जाए। उन्‍होंने कहा कि अब वह समय आ गया है, जब कहा जाए कि बहुत हो गया। कुरैशी तुर्की के विदेश मंत्री के साथ अमेरिका पहुँचे हैं। बता दें कि कुरैशी अपने इस बयान के लिए अब सोशल मीडिया में जमकर ट्रोल हो रहे हैं।

इस बीच, इजरायल और हमास ने शुक्रवार तक गाजा पट्टी सीमा पर संघर्ष विराम पर सहमति जताई है, जिससे 11 दिनों की बमबारी समाप्त हो गई। इजरायल और हमास दोनों ने संघर्ष में जीत का दावा किया है। वहीं, संयुक्त राष्ट्र के महासचिव एंटोनियो गुटेरेस ने गाजा और इजरायल के बीच युद्धविराम का स्वागत किया।

Updated: November 26, 2021 — 2:10 pm

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *