बंगाल पुलिस ने अंसारी को चोरी के मामले में उठाया, मर गया तो भीड़ ने थाने पर किया हमला: पत्थरबाजी-आगजनी की खबर

पश्चिम बंगाल के आसनसोल में कथित तौर पर पुलिस की हिरासत में एक शख्स की मौत हो गई है। रिपोर्ट्स के मुताबिक, अमन अंसारी नाम के युवक को पुलिस ने सोमवार (5 जुलाई 2021) की रात चोरी के शक में उठाया था। हिरासत में उसकी मौत की खबर फैलते ही मंगलवार (6 जुलाई 2021) सुबह आसनसोल के बराकर में दंगे जैसे हालात पैदा हो गए। भीड़ हिंसक हो गई और थाने पर पथराव किया। पुलिस की गाड़ियाँ जला दी गई।

समाचार न्यूज़ एजेंसी एएनआई के मुताबिक, आसनसोल-दुर्गापुर के पुलिस आयुक्त अजय ठाकुर ने बताया कि आरोपित को गिरफ्तार करने वाले 2 पुलिस अधिकारियों को निलंबित कर दिया गया है। इस मामले की जाँच चल रही है।

21 वर्षीय अंसारी की हिरासत में मौत के विरोध में स्थानीय लोग सड़कों पर उतर आए। भीड़ ने पुलिस वैन में आग लगाने के अलावा कथित तौर पर थाने पर बम भी फेंके हैं।

पुलिस वैन में आग लगा दी। (फोटो: bangla.asianetnews.com)

जैसा कि इन तस्वीरों में देखा जा सकता है कि युवाओं के साथ अन्य स्थानीय लोगों द्वारा भी पुलिस स्टेशन पर पत्थर और ईंटें फेंकी गईं।

एक स्थानीय युवक को थाने पर पथराव करते हुए देखा गया. फोटो : bangla.asianetnews.com

बताया जा रहा है कि पुलिस को स्थिति पर काबू पाने के लिए आँसू गैस के गोले दागने पड़े और लाठीचार्ज का सहारा लेना पड़ा। रिपोर्ट्स की मानें तो इस इलाके में व्याप्त तनाव को दूर करने के लिए कर्फ्यू भी लगाया जा सकता है।

बराकर में पुलिस और भीड़ के बीच झड़प। फोटो: bangla.asianetnews.com

एक स्थानीय व्यक्ति ने मुख्यमंत्री ममता बनर्जी से इस मामले में हस्तक्षेप करने की माँग की है। स्थानीय ने कहा, “एक युवा लड़के को पीट-पीटकर मार डाला गया। हम मुख्यमंत्री से मामले पर संज्ञान लेने का अनुरोध करते हैं। हम न्याय चाहते हैं।”

मृतक के चाचा मोहम्मद मुख्तार अंसारी ने कहा कि अमन के बारे में पता चलने पर वे अस्पताल पहुँचे। उन्होंने अपनी पीड़ा व्यक्त करते हुए कहा कि मैं अस्पताल पहुँचा और मुझे पता चला कि हमारा बेटा पहले ही मर चुका है। क्या यही देश का कानून है?

Updated: September 30, 2021 — 10:29 pm

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *