बंगाल: ममता को लगा एक और झटका, वन मंत्री राजीव बनर्जी ने कैबिनेट से दिया इस्तीफा

No Comments
बंगाल: ममता को लगा एक और झटका, वन मंत्री राजीव बनर्जी ने कैबिनेट से दिया इस्तीफा

न्यूज डेस्क, अमर उजाला, कोलकाता
Updated Fri, 22 Jan 2021 03:20 PM IST

पश्चिम बंगाल के वनमंत्री राजीब बनर्जी का इस्तीफा
– फोटो : Facebook/ANI

पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर
कहीं भी, कभी भी।

*Yearly subscription for just ₹299 Limited Period Offer. HURRY UP!

ख़बर सुनें

पश्चिम बंगाल में विधानसभा चुनाव से पहले राजनीतिक हलचल काफी तेज हो चुकी हैं। राज्य की सत्तारूढ़ पार्टी तृणमूल कांग्रेस (टीएमसी) को झटके पर झटके लग रहे हैं। शुक्रवार को वन मंत्री राजीव बनर्जी ने कैबिनेट मंत्री के रूप में अपने पद से इस्तीफा दे दिया है। राज्यपाल जगदीप धनखड़ ने उनके इस्तीफे को स्वीकार कर लिया है। वर्तमान परिस्थितियों में मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के लिए अपने गढ़ को बचाए रखना चुनौती बन गया है।

राजीव बनर्जी ने मुख्यमंत्री ममता बनर्जी को भेजे अपने त्याग पत्र में लिखा, ‘पश्चिम बंगाल के लोगों की सेवा करना बहुत सम्मान और सौभाग्य की बात है। इस अवसर को पाने के लिए मैं दिल से आभार व्यक्त करता हूं और सभी को धन्यवाद देता हूं।’
 

राजीव बनर्जी पिछली कई कैबिनेट बैठक में शामिल नहीं हुए थे, जिसके बाद कयास लगाए जा रहे थे कि वे अपने पद से इस्तीफा दे सकते हैं। उन्होंने बेशक मंत्री पद से इस्तीफा दे दिया है लेकिन वे अब भी टीएमसी के सदस्य हैं।

यह भी पढ़ें- पश्चिम बंगाल चुनावः नया सेकुलर फ्रंट बना, मौलाना अब्बास सिद्दीकी की किंग मेकर बनने की मंशा

बता दें कि विधानसभा चुनाव से पहले टीएमसी के नेताओं का पद से और पार्टी से इस्तीफा देने का सिलसिला जारी है। सुवेंदु अधिकारी सहित कई बड़े नेता भाजपा का दामन थाम चुके हैं। ऐसे में पार्टी के लिए अपने नेताओं को एकजुट रखना चुनौती बन चुका है। वहीं भाजपा राज्य में सरकार बनाने के लिए जी-तोड़ मेहनत कर रही है। इसी हफ्ते केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह बंगाल के दौरे पर जा सकते हैं। ऐसे में कयास लगाए जा रहे हैं कि कई नेता भाजपा में शामिल हो सकते हैं। 

भाजपा में शामिल हो चुके हैं ये विधायक
पिछले महीने तापसी मंडल, सुदीप मुखर्जी, सैकत पांजा, अशोक डिंडा, दीपाली बिस्वास, शुक्र मुंडा, शीलभद्र दत्ता, श्यांपदा मुखर्जी, बनश्री मैती और बिस्वजीत कुंडू भाजपा में शामिल हो चुके हैं।

पश्चिम बंगाल में विधानसभा चुनाव से पहले राजनीतिक हलचल काफी तेज हो चुकी हैं। राज्य की सत्तारूढ़ पार्टी तृणमूल कांग्रेस (टीएमसी) को झटके पर झटके लग रहे हैं। शुक्रवार को वन मंत्री राजीव बनर्जी ने कैबिनेट मंत्री के रूप में अपने पद से इस्तीफा दे दिया है। राज्यपाल जगदीप धनखड़ ने उनके इस्तीफे को स्वीकार कर लिया है। वर्तमान परिस्थितियों में मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के लिए अपने गढ़ को बचाए रखना चुनौती बन गया है।

राजीव बनर्जी ने मुख्यमंत्री ममता बनर्जी को भेजे अपने त्याग पत्र में लिखा, ‘पश्चिम बंगाल के लोगों की सेवा करना बहुत सम्मान और सौभाग्य की बात है। इस अवसर को पाने के लिए मैं दिल से आभार व्यक्त करता हूं और सभी को धन्यवाद देता हूं।’

 

राजीव बनर्जी पिछली कई कैबिनेट बैठक में शामिल नहीं हुए थे, जिसके बाद कयास लगाए जा रहे थे कि वे अपने पद से इस्तीफा दे सकते हैं। उन्होंने बेशक मंत्री पद से इस्तीफा दे दिया है लेकिन वे अब भी टीएमसी के सदस्य हैं।

यह भी पढ़ें- पश्चिम बंगाल चुनावः नया सेकुलर फ्रंट बना, मौलाना अब्बास सिद्दीकी की किंग मेकर बनने की मंशा

बता दें कि विधानसभा चुनाव से पहले टीएमसी के नेताओं का पद से और पार्टी से इस्तीफा देने का सिलसिला जारी है। सुवेंदु अधिकारी सहित कई बड़े नेता भाजपा का दामन थाम चुके हैं। ऐसे में पार्टी के लिए अपने नेताओं को एकजुट रखना चुनौती बन चुका है। वहीं भाजपा राज्य में सरकार बनाने के लिए जी-तोड़ मेहनत कर रही है। इसी हफ्ते केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह बंगाल के दौरे पर जा सकते हैं। ऐसे में कयास लगाए जा रहे हैं कि कई नेता भाजपा में शामिल हो सकते हैं। 

भाजपा में शामिल हो चुके हैं ये विधायक

पिछले महीने तापसी मंडल, सुदीप मुखर्जी, सैकत पांजा, अशोक डिंडा, दीपाली बिस्वास, शुक्र मुंडा, शीलभद्र दत्ता, श्यांपदा मुखर्जी, बनश्री मैती और बिस्वजीत कुंडू भाजपा में शामिल हो चुके हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *