बंगाल में BJP की महिला मोर्चा उपाध्यक्ष रेखा मैती पर जानलेवा हमला, पहले भी TMC के अटैक में हुआ था मिसकैरिज

पश्चिम बंगाल में भारतीय जनता पार्टी के कार्यकर्ताओं के ख़िलाफ हिंसा अभी थमी नहीं है। हाल ही में वहाँ तृणमूल कॉन्ग्रेस के कार्यकर्ताओं ने पूर्वी मिदनापुर के पताशपुर में भाजपा महिला मोर्चा की उपाध्यक्षा रेखा मैती पर निर्मम तरीके से हमला किया था। अब भाजपा कार्यकर्ता उनकी आर्थिक मदद करने में जुटे हैं।

भाजपा कार्यकर्ता देवदत्त माजी ने रेखा मैती की हमले के बाद की तस्वीरें शेयर करते हुए लिखा, “ईस्ट मिदनापुर के पताशपुर में ये रेखा मैती हैं। टीएमसी की हिंसा की पीड़िता। 2018 से इन्हें नरक भोगना पड़ रहा है। उस समय ये 6 माह गर्भवती थीं, तब इन्हें इतनी तेज मारा गया था कि इनका मिसकैरिज हो गया था। अब ये और इनका परिवार फिर से भाजपा का साथ देने पर भुगत रहा है। मैं इनके परिवार की मदद करने की कोशिश में लगा हूँ।”

देवदत्त द्वारा शेयर चार तस्वीरों में एक तस्वीर उस अमॉउंट की भी है, जो उन्होंने रेखा मैती के परिवार के लिए दी हैं।

बता दें पश्चिम बंगाल में चुनाव परिणाम के बाद यानी 2 मई से शुरू हुई राजनीतिक हिंसा का क्रम अब तक जारी है। इसी कड़ी में गत 11 जून को पूर्व मेदिनीपुर के पताशपुर विधानसभा की भाजपा महिला मोर्चा की उपाध्यक्षा रेखा मैती पर तृणमूल कांग्रेस के गुंडों ने जानलेवा हमला किया और मरने वाली हालत में छोड़कर चले गए। मैती को बाद में नजदीक के अस्पताल में भर्ती करवाया गया, जहाँ उनकी हालात नाजुक बनी हुई है। इससे पहले बीरभूम जिले के खैराशोल में भारतीय जनता पार्टी के बूथ उपाध्यक्ष मिथुन बागदी की तृणमूल कॉन्ग्रेस के गुंडों ने हत्या कर दी।

इसके अलावा, 6 जून को उत्तर 24 परगना के बैरकपुर इलाके में भाजपा कार्यकर्ता पर बम से हमला कर हत्या कर दी गई थी। मृत कार्यकर्ता का नाम जयप्रकाश यादव बताया गया था। बंगाल भाजपा ने सत्तारूढ़ तृणमूल कॉन्ग्रेस (टीएमसी) को इस हत्या के लिए जिम्मेदार ठहराया था। स्थानीय सांसद अर्जुन सिंह ने भी कहा था कि भाटपाड़ा के वार्ड नंबर 1 में तृणमूल के गुंडों ने भाजपा के कार्यकर्ता जे.पी. यादव के सिर पर बम मारकर उनकी हत्या कर दी।

Leave a Comment