‘बेकार है सत्यनारायण व भागवत कथा, विज्ञान के खिलाफ है’: गुजरात में AAP के प्रदेश अध्यक्ष के खिलाफ FIR

गुजरात में आम आदमी पार्टी (AAP) के प्रदेश अध्यक्ष गोपाल इटालिया के खिलाफ FIR दर्ज की गई है। उन पर हिन्दुओं की भावनाओं को ठेस पहुँचाने के आरोप लग रहे हैं। ‘हिन्दू आईटी सेल’ के अनुज मिश्रा ने ये मामला दर्ज कराया है। ‘हिन्दू आईटी सेल’ ने सोशल मीडिया के माध्यम से जानकारी दी कि गोपाल इटालिया के खिलाफ शिकायत दर्ज कराई गई है, जिसे FIR में तब्दील किया गया है। साथ ही गुजरात पुलिस से कड़ी कार्रवाई की माँग की।

शिकायत में कहा गया है कि गोपाल इटालिया के राज्य में सोशल मीडिया पर बड़ी संख्या में प्रशंसक हैं, ऐसे में उन्होंने एक वीडियो के जरिए हिन्दू देवी-देवताओं और रीति-रिवाजों का मजाक उड़ाया है, जिसे कई लोगों ने देखा। आरोप है कि गोपाल इटालिया ने कहा था, “अगर आपको मेरी बातें पसंद नहीं हैं तो आप मुझे ब्लॉक कर के निकल लीजिए, क्योंकि मुझे आपकी ज़रूरत नहीं है।” इसके बाद उन्होंने हिन्दू पर्व-त्योहारों का नाम लिया।

गोपाल इटालिया ने कहा, “लोग सत्यनारायण कथा और भागवत कथा जैसी बहुत सारी गैर-जरूरी चीजों पर रुपए खर्च कर रहे हैं। इन चीजों का कोई उपयोग ही नहीं है और ये अवैज्ञानिक हैं। अब भी लोगों को ये नहीं पता है कि ये सब कर के उन्हें क्या लाभ मिलेगा। ये सब कर के लोग दूसरों का समय भी जाया करते हैं। अगर हम इन चीजों पर 5 पैसा भी खर्च करते हैं, तो हमें मनुष्य की तरह जीवन जीने का कोई अधिकार नहीं है।”

गोपाल इटालिया ने आगे कहा था, “मैं ऐसे लोगों से शर्मिंदा हूँ (सत्यनारायण कथा और भागवत कथा कराने वाले)। मुझे इनसे काफी गुस्सा आता है। रीति-रिवाजों और संस्कृति के नाम पर हिजड़ों की तरह तालियाँ बजाने वालों की हमें कोई ज़रूरत नहीं है। कोई साधु मंच से कुछ बोल देगा और हमें हिजड़ों की तरह तालियाँ बजानी हैं?” शिकायत में कहा गया है कि AAP गुजरात के अध्यक्ष का वीडियो सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर अब भी उपलब्ध है।

FIR के अनुसार, ये वीडियो जंगल में आग की तरह देश-विदेश में फ़ैल रहा है और गोपाल इटालिया के फेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम और यूट्यूब हैंडलों से चारों तरफ फ़ैल रहा है। शिकायत के अनुसार, इस वीडियो को जानबूझ कर सिर्फ और सिर्फ हिन्दुओं की भावनाओं को ठेस पहुँचाने के लिए बनाया गया है। इसीलिए, निवेदन किया गया है कि हिन्दुओं के हितों का ध्यान रखते हुए उनके खिलाफ ठोस कार्रवाई की जाए।

उनके बयान से कई पुजारियों और कथावाचकों ने नाराजगी जताई। हाल ही में वो सोमनाथ मंदिर का दर्शन करने पहुँचे थे, लेकिन लोगों के विरोध के कारण उन्हें वहाँ से भागना पड़ा। वहीं उन्होंने अब हिन्दू समाज से माफ़ी भी माँगी है। इटालिया ने बयान दिया था कि आम आदमी मेहनत करके खाता है लेकिन पुजारी, कथावाचक, लोगों को भविष्य बताने वाले लोग बैठे-बैठे लोगों को ठगते हैं।उन्होंने इसे ‘धर्म का धंधा’ बताया था।

हालाँकि, गोपाल इटालिया के ये बयान पुराने हैं। तब वो गुजरात में AAP के प्रदेश अध्यक्ष भी नहीं बने थे। उन्होंने अपने बयान में तब कहा था कि कथावाचक व पुजारी आम आदमी को धर्म का डर दिखाते हैं तथा उन से रुपए ऐंठते हैं। भाजपा के मीडिया प्रभारी यग्नेश दवे ने उनके वीडियो को सोशल मीडिया पर अपलोड करके उन्हें हिंदू विरोधी बताया था। ये सब तब हो रहा है, जब दिल्ली के उप-मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया हाल ही में गुजरात दौरे से लौटे हैं।

इटालिया का एक और वीडियो वायरल हुआ है जहाँ उसके द्वारा हिन्दू परंपराओं के बारे में अनाप-शनाप बातें कही जा रही हैं। इटालिया ने दावा किया कि अमीर व्यापारी कथा और सत्संग के नाम पर लोगों से पैसे लूटते हैं। इटालिया ने कहा, “ये कथाकार सिर्फ सूरत में ही कथाएं क्यों करते हैं? अगर तुम इतने ही बड़े हो तो जाकर सीमा पर कथा करो। पाकिस्तान और बांग्लादेश सीमा पर जाकर कथा करो लेकिन यहाँ के लोगों को छोड़ दो।”

Updated: October 1, 2021 — 1:19 am

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *