मुंबई में 8 बच्चों सहित 11 की मौत: भारी बारिश के कारण गिरी चार मंजिला इमारत, BJP नेता ने कहा हत्या

मॉनसून की पहली बारिश में ही देश की आर्थिक राजधानी मुंबई नाले में तब्दील हो जाती है। परिणाम यह होता है कि कई इमारतें गिर कर मलबा बन जाती हैं। बुधवार को मुंबई में हुई भारी बारिश के कारण पश्चिमी मलाड इलाके में एक चार मंजिला इमारत गिर गई, जिसमें दबकर 11 लोगों को मौत हो गई। मरने वालों में 8 बच्चे शामिल हैं।

इस हादसे में घायल हुए 7 अन्य लोगों को इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती कराया गया है, जबकि 18 से अधिक लोगों को सुरक्षित बचा लिया गया है। वहीं, मलबे में फँसे अन्य लोगों को बचाने के लिए राहत एवं बचाव कार्य जारी है।

मुंबई के संयुक्त सीपी (कानून एवं व्यवस्था) विश्वास नांगरे पाटिल ने कहा है कि मुंबई पुलिस मकान मालिक और ठेकेदार के खिलाफ आईपीसी की धारा 304 (2) (गैर इरादतन हत्या) के तहत मामला दर्ज करेगी।

मलाड पश्चिम के अतिरिक्त सीपी दिलीप सावंत ने कहा कि यह एक जी+2 बिल्डिंग थी, जो दूसरी बिल्डिंग पर गिर गई। वहीं, बृहन्मुंबई नगर निगम (बीएमसी) ने बताया कि खराब हालत वाले आस-पास के मकानों को खाली करा लिया गया है, ताकि किसी तरह की दुर्घटना को टाला जा सके।

पुलिस से प्राप्त जानकारी के मुताबिक, दिन भर हुई बारिश के कारण एक 4 मंजिला इमारत एक 3 मंजिला इमारत पर गिर गई, जिसके बाद यह हादसा हुआ। फायर ब्रिगेड की टीम और स्थानीय पुलिस राहत और बचाव कार्य में लगी हुई है। फँसे हुए लोगों को स्थानीय निवासियों, बीएमसी, पुलिस और फायर ब्रिगेड की मदद से बाहर निकाला जा रहा है।

मौके पर मौजूद एक स्थानीय व्यक्ति सिद्दीकी ने बताया कि यह घटना रात करीब 10:15 बजे हुई। दो लोगों ने उन्हें इमारत से बाहर निकलने के लिए कहा, इसके बाद वह बाहर आ गए। जैसे ही वे बाहर निकले, उन्होंने देखा कि उनकी इमारत के पास एक डेयरी सहित तीन इमारत ध्वस्त हो गए हैं।

वहीं, मौसम विभाग ने अगले चार दिनों तक मुंबई और आसपास के इलाकों में तेज बारिश की चेतावनी दी है। बुधवार को हुई भारी बारिश के के कारण कई इलाकों में जलभराव हो गया है, जिसके कारण यातायात बाधित हो गया है और लोगों को रोजमर्रा के कामों में परेशानी आ रही है।

इस घटना को लेकर बीजेपी ने शिवसेना के नेतृत्व वाली सरकार पर हमला बोला है। बीजेपी के वरिष्ठ नेता राम कदम ने ट्वीट करके कहा है कि यह हादसा शिवसेना शासित बीएमसी की लापरवाही के कारण हुआ है। यह हादसा नहीं हत्या है।

Leave a Comment