मोदी सरकार के 43 ‘नव रत्न’: सिंधिया के मंत्री बनने से खुश हुए समर्थक, जानें और किन नेताओं ने ली मंत्री पद की शपथ

मोदी सरकार के दूसरे कार्यकाल में मंत्रिमंडल विस्तार के क्रम में नामित 43 नेताओं ने आज (6 जुलाई 2021) राष्ट्रपति भवन में शपथ ग्रहण की। इस दौरान वहाँ राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, गृहमंत्री अमित शाह समेत कई दिग्गज नेता मौजूद रहे। इसके अलावा मंत्री पद से इस्तीफा देने वाले प्रकाश जावड़ेकर और रविशंकर प्रसाद भी समारोह में मौजूद दिखे।

महाराष्ट्र से आने वाले नारायण राणे ने सबसे पहले शपथ ली है, जबकि असम के पूर्व सीएम सर्वानंद सोनेवाला ने दूसरे नंबर पर शपथ ली। तीसरे नंबर पर वीरेंद्र कुमार ने और चौथे नंबर पर मध्यप्रदेश से राज्यसभा सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया शपथ लेते नजर आए। इसके बाद हरदीप सिंह पुरी, मनसुख मांडविया, भूपेंद्र यादव, पशुपति कुमार पारस, किरण रिजिजू और राम कुमार सिंह ने भी शपथ ली।

राष्ट्रपति भवन में नए मंत्रिमंडल के लिए शपथ लेने वाले सभी 43 नाम हैं: 1. नारायण राणे 2. सर्बानंद सोनोवाल 3. वीरेंद्र कुमार 4. ज्योतिरादित्य सिंधिया 5. आरसीपी सिंह 6. अश्विनी वैष्णव 7. पशुपति कुमार पारस 8. किरण रिजिजू 9. राजकुमार सिंह 10. हरदीप सिंह पुरी 11. मनसुख मंडाविया 12. भूपेंद्र यादव 13. पुरुषोत्तम रूपाला 14. जी किशन रेड्डी 15. अनुराग ठाकुर 16. पंकज चौधरी 17. अनुप्रिया पटेल 18. सत्यपाल सिंह बघेल 19. राजीव चंद्रशेखर 20. शोभा करंदलाजे 21. भानुप्रताप सिंह वर्मा 22. दर्शना विक्रम जरदोश 23. मीनाक्षी लेखी 24. अन्नपूर्णा देवी 25. ए नारायण स्वामी 26. कौशल किशोर 27. अजय भट्ट 28. बीएल वर्मा 29. अजय कुमार 30. देवसिंह चौहान 31. भगवंत खूबा 32. कपिल पाटिल 33. प्रतिमा भौमिक 34. सुभाष सरकार 35. भगवत कृष्ण राव कराड़ 36. राजकुमार रंजन सिंह 37. भारती प्रवीण पवार 38. विश्वेश्वर टुडू 39. शांतनु ठाकुर 40. महेंद्र भाई मुंजापारा 41. जॉन बारला 42. एल मुरुगन 43. नीतीश प्रामाणिक

उल्लेखनीय है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अपनी कैबिनेट का विस्तार से पहले शपथ लेने वाले सभी नेताओं की सूची को राष्ट्रपति भवन भेजा गया था। वहीं 12 मंत्री ऐसे थे जिन्होंने इस सियासी हलचल में अपना इस्तीफा सौंपा। इन 12 नामों में आईटी मंत्री रविशंकर प्रसाद और पर्यावरण मंत्री प्रकाश जावड़ेकर का नाम भी शामिल है।

बता दें कि नए मंत्रिमंडल में ज्योतिरादित्य सिंधिया के जुड़ने से उनके समर्थकों में खुशी का माहौल है। भोपाल में भाजपा दफ्तर के बाहर जश्न मनाया जा रहा है। मिठाई बँट रही हैं। सबका कहना है कि मिठाई इसलिए है क्योंकि पीएम मोदी ने युवा नेतृत्व पर भरोसा किया।

Updated: October 1, 2021 — 2:30 am

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *