रात को अचानक गांव में दाखिल हुआ हाथियों का झुंड, रातभर ताली-थाली के सहारे भगाते रहे ग्रामीण

ग्रामीणों ने अपने मोबाइल से रिकॉर्ड किया हाथियों का आतंक

ग्रामीणों ने अपने मोबाइल से रिकॉर्ड किया हाथियों का आतंक

हल्द्वानी(Haldwani ) के आस-पास हाथियों का आतंक(Elephant panic) रुकने का नाम नहीं ले रहा है. हाथी रात को जंगल से निकलकर गांवों में दाखिल हो रहे हैं. जिससे फसलों को तो नुकसान हो ही रहा है साथ ही इंसानों की जान को भी खतरा है. हाथियों का गांव में दाखिल होने का वीडियो सोशल मीडिया में खूब वायरल हो रहा है. जिसे ग्रामीणों ने अपने मोबाइल से रिकॉर्ड किया था.

  • News18Hindi

  • Last Updated:
    February 3, 2021, 1:56 PM IST

हल्द्वानी (Haldwani ) के आस-पास हाथियों का आतंक(Elephant panic) रुकने का नाम नहीं ले रहा है. हाथी रात को जंगल से निकलकर गांवों में दाखिल हो रहे हैं. जिससे फसलों को तो नुकसान हो ही रहा है साथ ही इंसानों की जान को भी खतरा है. ताजा मामला बुधवार का है जब हल्द्वानी -मोटाहल्दू से सटे खड़कपुर गांव में कई हाथी पहुंच गए. हाथियों का झुंड अपने करीब देख लोगों की नींद गायब हो गई. ग्रामीणों के भगाने के बावजूद हाथी टस से मस नहीं हुए. आखिरकार रात भर ग्रामीण ताली और थाली के सहारे हाथियों को भगाते रहे. ग्रामीणों ने जान का खतरा देख फॉरेस्ट टीम को कॉल किया. जिसके बाद टीम मौके पर पहुंची. फॉरेस्ट टीम ने हवाई फायर किए. साथ ही हूटर का सहारा भी लिया. जिसके बाद हाथी खेतों के तरफ से होते हुए जंगल की ओर चले गए. हाथियों का गांव में दाखिल होने का वीडियो सोशल मीडिया में खूब वायरल हो रहा है. जिसे ग्रामीणों ने अपने मोबाइल से रिकॉर्ड किया था.

हाथी कर रहे हैं फसल चौपट

खड़कपुर गांव के ग्राम प्रधान शंकर जोशी के मुताबिक आए दिन हाथी खेतों का रुख करते हैं. कभी ये झुंड में होते हैं तो कभी अकेला टस्कर हाथी ग्रामीण इलाके में दिखता है. हाथी गन्ना जैसी फसल को खाता है साथ ही गेहूं-धान या अन्य फसलों को अपने पांवों से रौंद डालता है. जिससे ग्रामीण किसानों की उपज भी प्रभावित होती है.ये भी पढ़ें- देहरादून: जिम कार्बेट पार्क के बिजरानी रेंज में करंट लगने से हाथी की मौत, खेत में मिला शव

Haldwani News: जब हाईवे पर आ गए कई हाथी, फिर आगे क्या हुआ देखें VIDEO




[ad_2]

Home

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *