सपा महिला नेता के साथ बदसलूकी: CM योगी ने लखीमपुर थाने के सभी पुलिसकर्मियों को किया निलंबित

उत्तर प्रदेश में ब्लॉक प्रमुख चुनावों के लिए अपना नामांकन फाइल करने पहुँची समाजवादी पार्टी की महिला नेता और उनकी समर्थक के साथ बदसलूकी होने पर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने बड़ा फैसला लेते हुए लखीमपुर थाने के सभी पुलिसकर्मियों को निलंबित कर दिया है।

रिपोर्ट्स के मताबिक, योगी सरकार ने सभी पुलिसकर्मियों के निलंबन का यह फैसला सपा महिला नेता और उनकी समर्थक के साथ हुई बदसलूकी के मद्देनजर लिया। सस्पेंड हुए अधिकारियों में सर्कल ऑफिसर और स्टेशन हाउस ऑफिसर भी शामिल हैं।

बता दें गुरुवार (जुलाई 8, 2021) को सपा की महिला नेता ब्लॉक पंचायत कैंडिडेट के तौर पर अपना नॉमिनेशन भरने आई थीं। लेकिन नॉमिनेशन सेंटर पर कुछ लोगों ने उनके व उनकी महिला समर्थक के साथ बदसलूकी की और उनकी साड़ी भी खींची। कथिततौर पर हरकत को अंजाम देने वाला मुख्य आरोपित निर्दलीय प्रत्याशी है।

महिलाओं के साथ खींचतान की वीडियो अब सोशल मीडिया पर शेयर हो रही है। वीडियो में दिख रहा है कि सपा महिला नेता पर हमला किया गया, उनका शोषण किया गया और खुलेआम उनके कंधे से उनकी साड़ी खींच ली गई। ये हरकत दोनों अन्य पुरुषों ने चुनाव में निर्विरोध जीतने के इरादे से की।
http://

इसके अलाव सपा नेता ऋतु सिंह ने ऐसी बदसलूकी पर कहा, “मैं अपना नामांकन दाखिल करने गई थी, लेकिन उन्होंने मेरा नामांकन पत्र फाड़ दिया। वे मेरा पर्स लेकर भाग गए और मेरे कपड़े फाड़ दिए। पुलिस मौके पर थी और कुछ नहीं किया। वे रेखा शर्मा के ही गुंडे थे।”

बता दें कि पुलिस ने दोनों आरोपितों में से एक को गिरफ्तार कर लिया है। इसकी पहचान यश वर्मा के रूप में हुई हैं। वहीं अन्य लोग भी हिरासत में लिए गए हैं। महिला नेता ऋतु सिंह ने स्थानीय भाजपा नेताओं पर उनकी समर्थक अनीता के साथ दुर्व्यवहार और उत्पीड़न का आरोप लगाया, जो उनके नामांकन का समर्थन करने के लिए वहाँ मौजूद थीं।

उल्लेखनीय है कि ऋतु सिंह प्रखंड अध्यक्ष पद के लिए लखीमपुर खीरी के पासगावां प्रखंड से चुनाव लड़ रही हैं। वह भाजपा उम्मीदवार शिखा सिंह के खिलाफ चुनाव लड़ रही हैं, जो कथित तौर पर भाजपा नेता रेखा शर्मा की करीबी हैं।

बताया जा रहा है कि नामांकन दाखिल करने के स्थान पर, भाजपा और सपा के उम्मीदवारों और समर्थकों के बीच कथित तौर पर झड़पें हुईं। फिर कुछ स्थानीय बीजेपी समर्थकों ने सपा उम्मीदवार ऋतु सिंह के समर्थक के साथ दुर्व्यवहार और उनको परेशान किया।

जब घटना की सूचना उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री को मिली तो उन्होंने आरोपितों के खिलाफ सख्त कार्रवाई के आदेश दिए। साथ ही महिलाओं को पर्याप्त सुरक्षा नहीं देने पर पुलिसकर्मियों को निलंबित भी कर दिया। बैठक के दौरान मुख्यमंत्री ने कहा कि शांति भंग करने की किसी भी कोशिश को बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। सीएम ने वरिष्ठ पुलिस अधिकारियों को शांति बनाए रखने के लिए अतिरिक्त बल तैनात करने का निर्देश दिया है। इस बीच, उत्तर प्रदेश पुलिस के अधिकारियों ने कहा है कि वे घटना की जाँच कर रहे हैं और दोषियों को बख्शा नहीं जाएगा।

Updated: October 1, 2021 — 9:03 am

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *