₹60000 करोड़, सबसे सस्ता स्मार्टफोन, 109 शहरों में वैक्सीनेशन सेंटर: नीता अंबानी ने बताया कोरोना काल का ‘धर्म’

भारत के प्रमुख बिजनेस हाउस रिलायंस इंडस्ट्रीज लिमिटेड की 44वीं एनुअल जनरल मीटिंग (AGM) में कई बड़ी घोषणाएँ की गई। कंपनी ग्रीन एनर्जी के क्षेत्र में 60 हजार करोड़ रुपए का निवेश करेगी। ‘जियोफोन नेक्स्ट’ (Jiophone next) लॉन्च करने का ऐलान किया गया। दुनिया का सबसे सस्ता बताया जा रहा यह स्मार्टफोन इस साल गणेश चतुर्थी यानी 10 सितंबर से बाजार में आ जाएगा। इस दौरान रिलायंस फाउंडेशन की प्रमुख नीता अंबानी ने कहा कि कोरोना संकट से प्रभावित भारतीयों को उबरने में मदद करना ही उनका धर्म है।

कोविड महामारी के दौरान रिलायंस फाउंडेशन के मानवीय कार्यों पर प्रकाश डालते हुए उन्होंने कहा कि भारत के सामने जो भी चुनौतियाँ हैं, उनमें कंपनी देश के लोगों के साथ मजबूती से खड़ी है और आगे भी रहेगी। नीता अंबानी ने बताया कि रिलायंस फाउंडेशन ने भारत के 109 शहरों में 116 टीकाकरण केंद्र स्थापित किए हैं और इन प्लेटफॉर्म का उपयोग टीकाकरण अभियान के लिए मुफ्त में किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि कोविड के खिलाफ भारतीयों का टीकाकरण अभी सर्वोच्च प्राथमिकता है और फाउंडेशन इसे सफल बनाने के लिए हर संभव सहायता प्रदान करेगा।

नीता अंबानी ने कहा कि रिलायंस फाउंडेशन का मिशन वैक्सीन भारत में सबसे बड़े कॉर्पोरेट टीकाकरण अभियानों में से एक है, जिससे सेवानिवृत्त कर्मचारियों, उनके परिवार के सदस्यों और RIL की सभी साझेदार कंपनियों के कर्मचारियों सहित कुल लगभग 20 लाख लोगों को लाभ होगा।

नीता अंबानी ने कहा, “देशव्यापी टीकाकरण अभियान को अंजाम देना एक बहुत बड़ा काम है। लेकिन यह हमारा धर्म है, यह हर भारतीय के लिए हमारा कर्तव्य, रक्षा और सुरक्षा का हमारा वादा है। हमारा दृढ़ विश्वास है कि एक साथ हम कर सकते हैं और हम इससे उबर जाएँगे।”

अंबानी ने मरीजों की मदद के लिए कोविड केयर फैसिलिटी की स्थापना में RIL के योगदान का भी जिक्र किया। पिछले साल, पीएम केयर्स फंड में 556 करोड़ रुपए दान करने के अलावा, RIL ने अस्पतालों और कोविड केयर फैसिलिटी के निर्माण में सैकड़ों करोड़ खर्च किए थे। अंबानी ने कहा कि जब तक भारत में दूसरी लहर आई, तब तक रिलायंस ने मुंबई में अतिरिक्त 875 अस्पताल बेड स्थापित कर लिए थे।

उन्होंने यह भी कहा कि जब देश को आवश्यकता थी तो RIL ने जामनगर रिफाइनरी को प्रति दिन  1100 मीट्रिक टन मेडिकल-ग्रेड लिक्विड ऑक्सीजन का उत्पादन करने के लिए फिर से तैयार किया और विभिन्न राज्यों को इसकी आपूर्ति की। 

नई ऊर्जा में उद्यम करेगी RIL

RIL प्रमुख मुकेश अंबानी ने घोषणा की है कि RIL नए ऊर्जा कारोबार में 60,000 करोड़ रुपए का निवेश करेगी। इसके साथ ही यह धीरूभाई अंबानी ग्रीन एनर्जी गीगा कॉम्प्लेक्स नामक एक नया ऊर्जा विकास केंद्र शुरू कर रहा है। यह सौर ऊर्जा, स्टोरेज बैट्री, हाइड्रोजन सेल और अन्य पर ध्यान केंद्रित करते हुए 4 गीगा कारखाने शुरू करने की योजना बना रहा है।

मुकेश अंबानी ने कहा कि RIL ने 2030 तक 100GW ऊर्जा उत्पादन का लक्ष्य रखा है। जामनगर में 5000 एकड़ क्षेत्र में गीगा कॉम्प्लेक्स बन रहा है। मुकेश अंबानी ने तेजी से इंटरनेट प्रदान करने के लिए जियो और गूगल के बीच एक नई 5G पार्टनरशिप की भी घोषणा की।

Leave a Comment