18-44 साल वालों का Covid वैक्सीन के लिए सरकारी केन्द्रों पर होगा ऑनसाइट रजिस्ट्रेशन, 19 करोड़ से अधिक को लगा टीका

दुनिया के सबसे बड़ी वैक्सीनेशन अभियान में और अधिक तेजी लाने के लिए केंद्रीय स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय ने 18-44 वर्ष आयु वर्ग के लिए CoWIN डिजिटल प्लेटफॉर्म की साइट पर रजिस्ट्रेशन करने की छूट दे दी है। 18 से अधिक उम्र वालों का ऑन-साइट रजिस्ट्रेशन और अपॉइंटमेंट किया जा रहा है।

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने यह निर्णय राज्यों/केंद्र शासित प्रदेशों द्वारा दिए गए एप्लीकेशन के आधार पर लिया है।

सरकार के इस कदम का उद्देश्य वैक्सीन की बर्बादी को कम करना और इंटरनेट, स्मार्ट फोन या मोबाइल फोन तक पहुँच के बिना भी टीका लगाने की सुविधा देना है।

केंद्र सरकार ने बयान जारी कर कहा है, “ऑनलाइन स्लॉट के साथ रजिस्ट्रेशन कराने वाला व्यक्ति अपॉइंटमेंट के बावजूद जिस दिन नहीं आता है तो दिन के अंत तक कुछ वैक्सीन अनउपयोगी रह जाती हैं। ऐसे मामलों में कम से कम टीकों की बर्बादी हो इसके लिए लाभार्थियों के ऑन साइट रजिस्ट्रेशन भी होगा।”

शुरुआती चरण में सरकार यह सुविधा केवल सरकारी कोविड टीकाकरण सुविधाओं पर शुरू करेगी। वहीं हर राज्य अपने-अपने राज्यों में ऑन-साइट रजिस्ट्रेशन को एक्टिवेट करने के लिए खुद ही उत्तरदायी होगा।

सरकार द्वारा जारी प्रेस रिलीज में कहा गया है, “राज्य व केंद्रशासित प्रदेश को स्थानीय परिस्थिति के आधार पर 18-44 वर्ष आयु वर्ग के लिए ऑन-साइट रजिस्ट्रेशन की सुविधा वाले समूहों के पंजीकरण और नियुक्तियों को खोलने का निर्णय लेना चाहिए, ताकि टीके की बर्बादी को कम करने और टीकाकरण की सुविधा के लिए एक अतिरिक्त उपाय किया जा सके।

केंद्र ने दी निर्देशों का कड़ाई से पालन करने की सलाह

स्वास्थ्य मंत्रालय ने राज्यों व केंद्र शासित प्रदेशों के सभी जिला टीकाकरण अधिकारियों को स्पष्ट दिशा-निर्देश जारी करने की सलाह दी है। साथ ही केंद्र ने सभी जिला टीकाकरण अधिकारियों को साइट पर रजिस्ट्रेशन समेत अन्य मुद्दों पर राज्य सरकार के निर्देशों का कड़ाई से पालन करने की सिफारिश भी की है।

स्वास्थ्य मंत्रालय ने कहा है कि टीकाकरण की सुविधा का लाभार्थी अधिकतम लाभ उठा सकें, इसके लिए टीकाकरण सेवाएँ प्रदान करने के लिए पूरी तरह से आरक्षित सत्र भी आयोजित किए जा सकते हैं। साथ ही ऐसे लाभार्थियों को पर्याप्त संख्या में जुटाने के लिए पहले से कोशिशें करने की आवश्यकता है।

केंद्र सरकार ने राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों को रजिस्ट्रेशन के दौरान अधिकतम सुरक्षा व सावधानी बरतने की नसीहत दी है, जिससे वैक्सीनेशन के दौरान सेंटरों पर अनावश्यक भीड़ से बचा जा सके।

देश के लिए यह एक ऐतिहासिक उपलब्धि है कि अब तक 19 करोड़ से अधिक लोगों को वैक्सीन के डोज लग चुके हैं।

Updated: September 25, 2021 — 9:33 pm

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *