2 महीने बाद पकड़ा गया मार्टिन जोसेफ, त्रिशूर के जंगली इलाके में छिपा था: इसके कारनामे सुन सन्न रह जाएँगे

केरल के कोच्चि में लिव-इन पार्टनर को फ्लैट में बंद रखकर उसे मानसिक और शारीरिक तौर पर प्रताड़ित करने वाला मार्टिन जोसेफ 10 जून 2021 की रात गिरफ्तार कर लिया गया। पीड़िता की शिकायत के पूरे दो माह बाद उसकी गिरफ्तारी हुई है। मुकदमा दर्ज होने के बाद से मार्टिन फरार था और कुछ दिन पहले उसने अंतरिम जमानत के लिए कोर्ट का दरवाजा खटखटाया था।

द न्यूज मिनट के मुताबिक आरोपित की गिरफ्तारी त्रिशूर जिले के जंगल वाले इलाके से हुई। पिछले दो दिनों से कोच्चि पुलिस वहाँ नजर बनाए हुई थी। शहर के पुलिस आयुक्त ने कहा कि गुरुवार की रात पुलिस ने क्षेत्र के निवासियों की सहायता के साथ एक बिल्डिंग का पता लगाया, जहाँ वह अब तक छिपा हुआ था।

बता दें कि पीड़िता पिछले साल से मार्टिन के साथ कोच्चि के एक फ्लैट में लिव इन में रहती थी। इसी दौरान उसे शारीरिक और मानसिक तौर पर प्रताड़ित किया गया। मार्टिन ने उसका रेप किया और वीडियो रिकॉर्ड कर उसे धमकी दी कि अगर उसने कॉपरेट नहीं किया तो सारी फोटोज उसके माता-पिता को भेज देगा।

पीड़िता के मुताबिक, अपने फ्लैट में कैद करके मार्टिन ने उसे बेल्ट से पीटा, उसका दुष्कर्म किया, उसे जगाए रखने के लिए उसकी आँख पर लाल मिर्च वाला पानी डाला। साथ ही जबरन टॉयलेट का पानी और मूत्र पीने को मजबूर किया। 

कुछ माह पहले जब महिला किसी तरह मार्टिन के चंगुल से भागने में सफल हुई तो उसने अपनी फोटो मीडिया में शेयर की। तस्वीर में उसकी पूरी बॉडी पर खून जमने के निशान थे। मामला पुलिस के संज्ञान में आया और इसकी शिकायत लिखवाई। वहाँ भी महिला ने शरीर पर घावों के निशान को प्रमाण की तरह पेश किया। शुरू में इस मामले में पुलिस ने ढिलाई दिखाई। लेकिन बाद में मामला राज्य महिला अधिकार पैनल पर गया और कार्रवाई के निर्देश दिए गए। हाल में कोर्ट में भी मार्टिन की अंतरिम जमानत याचिका को खारिज किया गया, जिसमें उसने अपने ऊपर लगे सभी आरोप झूठे बताए थे।

मार्टिन के 3 दोस्त भी गिरफ्तार

बता दें कि 10 जून को कोच्चि की एक अन्य महिला ने मार्टिन के ख़िलाफ़ शारीरिक शोषण का मुकदमा दायर करवाया है। पुलिस ने मामले में मार्टिन के तीन दोस्त धनेश, श्रीराग और जॉन जॉय को गिरफ्तार किया है। तीनों उसके त्रिशूर के रिश्तेदार हैं जिन्होंने उसे फरार होने में मदद की। पुलिस ने इनके पास से 3 वाहन जब्त किए हैं। इनमें 1 स्विफ्ट, 1 बाइक और 1 BMW है।

पुलिस कमिश्नर का कहना है कि अब आरोपित की वित्तीय गतिविधियों के बारे में जाँच हो रही है। पता लगाया जा रहा है कि कैसे वह इतने महॅंगे वाहनों और शानदार अपार्टमेंट को अफोर्ड कर पा रहे थे। इस बात की भी जाँच हो रही है कि कहीं मार्टिन के विरुद्ध पहले से और शिकायतें तो नहीं हैं। गिरफ्तार आरोपितों में से एक पर एनडीपीएस (नारकोटिक ड्रग्स एंड साइकोट्रोपिक सब्सटेंस एक्ट) मामले में केस दर्ज किया गया था। ऐसे में इस बात की जाँच भी हो रही है कि वह पुलिस से कैसे बच गए।

मार्टिन पर आईपीसी की धारा 323 , 324, 344, 376, 420 और 506 के तहत मामला दर्ज किया गया है, जबकि अन्य तीन आरोपियों पर मार्टिन को शरण देने के लिए मामला दर्ज किया गया है। दूसरी महिला की शिकायत पर मार्टिन पर आईपीसी की धारा 354 के तहत मामला दर्ज किया गया है।

Leave a Comment