‘2022 में फिर CM होंगे योगी आदित्यनाथ’: यूपी के 52% लोगों को यकीन, जनसंख्या नियंत्रण के लिए 11 जुलाई को आएगी नई नीति

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ राज्य के विकास के लिए लगातार प्रयत्न करते रहते हैं। भले ही इसके लिए उन्हें कोई कठिन निर्णय लेना पड़े लेकिन राज्य की जनता के कल्याण के लिए योगी सरकार सदैव तत्पर रही है। इसी क्रम में अब योगी सरकार 2021-30 के लिए जनसंख्या नियंत्रण नीति लेकर आने वाली है, जो 11 जुलाई को सबके सामने आएगी। उनके इन्हीं प्रयासों के कारण यूपी में आज सीएम योगी से बड़ा चेहरा कोई नहीं है और यही कारण है कि हाल ही में किए गए एक सर्वे में यह सामने आया है कि 52% लोगों ने यह माना है कि 2022 में योगी आदित्यनाथ एक बार फिर यूपी की कमान संभालने वाले हैं।

परिवार नियोजन और स्वास्थ्य पर प्रमुख ध्यान:

11 जुलाई 2021 को विश्व जनसंख्या दिवस पर योगी सरकार भारत के सर्वाधिक जनसंख्या वाले राज्य के लिए जनसंख्या नियंत्रण नीति का अनावरण करेगी। यह 2021-30 के लिए राज्य में समुदाय आधारित दृष्टिकोण पर आधारित होगी जिसके तहत जनसंख्या नियंत्रण के साथ स्वास्थ्य पर भी नीतिगत निर्णय लिए जाएँगे जिससे राज्य बेहतर तरीके से विकास कर सके। सरकारी प्रवक्ता ने बताया कि राज्य में जन्म दर 2.7 है जबकि इसे आदर्श रूप से 2.1 से कम होना चाहिए और कई राज्यों ने यह लक्ष्य हासिल भी कर लिया है, सिवाय यूपी और बिहार के।

सरकारी प्रवक्ता ने यह भी बताया कि आगामी जनसंख्या नियंत्रण नीति 5 स्तंभों पर आधारित होगी। इसमें परिवार नियोजन के लिए बेहतर उपायों की उपलब्धता पर जोर दिया जाएगा। साथ ही नपुंसकता और बाँझपन के लिए समाधान प्रदान करके और शिशु एवं मातृ मृत्यु दर को भी कम से कम करने के लिए भी प्रयास किया जाएगा। सरकारी प्रवक्ता के अनुसार इस नीति की विशेषता है कि इसमें न केवल जनसंख्या नियंत्रण पर जोर दिया जाएगा बल्कि साथ ही बेहतर स्वास्थ्य सुविधाओं और लोगों में जागरुकता के प्रसार के लिए उपाय किए जाएँगे। दरअसल सीएम आदित्यनाथ का मानना है कि गरीबी और अशिक्षा ही ऐसे प्रमुख कारण हैं जिनसे जनसंख्या नियंत्रण के कार्य में रुकावट आ सकती है इसलिए इस नीति में इन दोनों कारकों पर प्रमुख रूप से ध्यान दिया जाएगा।

2022 में योगी फिर संभालेंगे UP की कमान:

सीएम योगी आदित्यनाथ के इन्हीं उपायों और जनकल्याणकारी कार्यों के चलते वर्तमान समय में यूपी में वही प्रमुख चेहरा हैं, न केवल भाजपा का बल्कि समूचे उत्तर प्रदेश की राजनीति का। हाल ही में IANS-CVoter के द्वारा किए गए सर्वे में यह सामने आया है कि यूपी के 52% लोग यह मानते हैं कि सीएम योगी 2022 के विधानसभा चुनावों के बाद दोबारा मुख्यमंत्री के रूप में लौटेंगे। इस सर्वे में भाग लेने वाले 37% लोगों ने ऐसा होने से इनकार किया है। इस सर्वे में सभी वर्गों के 1200 लोगों ने भाग लिया था।

ज्ञात हो कि 14 मार्च 2022 को योगी सरकार का पहला कार्यकाल समाप्त होने जा रहा है। इसके पहले फरवरी 2022 में उत्तर प्रदेश में विधानसभा चुनाव आयोजित कराए जाएँगे। 2017 में 403 विधानसभा सीटों के लिए हुए चुनावों में भारतीय जनता पार्टी ने 312 सीटों पर जीत हासिल करते हुए अकेले दम पर बहुमत हासिल किया था। इस विधानसभा चुनाव में भाजपा को 39.67% मत प्राप्त हुए थे। यूपी में इस प्रचंड बहुमत के बाद योगी आदित्यनाथ राज्य के मुख्यमंत्री चुने गए थे।

Updated: July 9, 2021 — 6:38 pm

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *