Corona Vaccination: देश में अब तक 52.66 लाख हेल्थकेयर वर्कर्स को लगा कोरोना का टीका

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। केंद्र ने शनिवार को कहा कि देश में अब तक लगभग 55 प्रतिशत हेल्थकेयर वर्कर्स का टीकाकरण किया गया है, जबकि लगभग 5 प्रतिशत फ्रंटलाइन वर्कर्स को कोविड की वैक्सीन लगाई गई है।

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के मुताबिक शनिवार शाम 6 बजे तक के आंकड़ों के अनुसार, 56,36,868 हेल्थकेयर वर्कर्स और फ्रंटलाइन वर्कर्स का टीकाकरण किया गया है। इनमें से 3,70,693 लाभार्थी फ्रंटलाइन थे, जबकि शेष 52,66,175 हेल्थ वर्कर्स थे। मंत्रालय के मुताबिक, हेल्थ केयर वर्कर्स का आंकड़ा कोविन ऐप पर पंजीकृत कुल संख्या का 54.7 फीसदी है, जबकि अब तक वैक्सीन लेने वाले फ्रंटलाइन वर्कर्स की संख्या 4.5 प्रतिशत है। गौरतलब है कि हेल्थकेयर वर्कर्स का टीकाकरण अभियान 16 जनवरी से शुरू हुआ, जबकि फ्रंटलाइन वर्कर्स को 2 फरवरी से टीका लगना शुरू हुआ था।

वैक्सीनेशन का तीसरा फेज मार्च में
केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉ. हर्षवर्धन ने बताया कि वैक्सीनेशन का तीसरा फेज मार्च में शुरू हो जाएगा। उन्होंने लोकसभा में एक सवाल का जवाब देते हुए यह जानकारी दी। बताया कि तीसरे फेज की वैक्सीनेशन प्रक्रिया मार्च के किसी भी हफ्ते में शुरू हो सकती है। इसमें 50 साल से अधिक उम्र के सभी लोगों को वैक्सीन लगाई जाएगी। 50 साल से कम उम्र के हाई रिस्क वाले लोगों को भी प्रायोरिटी मिलेगी। वैक्सीनेशन के पहले और दूसरे फेज में अब तक देश के 52 लाख 90 हजार से ज्यादा हेल्थ केयर और फ्रंट लाइन वर्कर्स को वैक्सीन लगाई जा चुकी है। इन सभी को 13 फरवरी से वैक्सीन का दूसरा डोज लगाया जाएगा।

टेस्टिंग का आंकड़ा 20 करोड़ के पार
देश में कोरोना टेस्टिंग का आंकड़ा 20 करोड़ के पार हो गया है। इनमें 1 करोड़ 8 लाख 15 हजार यानी 5.39% लोग संक्रमित मिले। राहत की बात ये है कि अब तक 1 करोड़ 5 लाख 79 मरीज ठीक भी हो चुके हैं। संक्रमण से 1 लाख 54 हजार 956 मरीजों की मौत हो चुकी है। 1 लाख 45 हजार 953 मरीज ऐसे हैं जिनका इलाज चल रहा है।

22 देशों से वैक्सीन की डिमांड आई
डॉ. हर्षवर्धन ने बताया कि दुनिया के 22 देशों से वैक्सीन की डिमांड आई है। इनमें अफगानिस्तान, अल्जीरिया, बांग्लादेश, भूटान, ब्राजील, इजिप्ट, कुवैत, मॉरीशस, मालदीव, मंगोलिया, सउदी अरब, म्यांमार, नेपाल, ओमान, मोरोक्को, साउथ अफ्रीका, श्रीलंका और UAE जैसे देश हैं। इनमें 15 से ज्यादा देशों को 2 फरवरी तक ग्रांट के तौर पर 56 लाख डोज दी गई है, जबकि कॉन्ट्रैक्ट के तौर पर 105 लाख डोज दी जा रही है।

[ad_2]

Home

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *