Farmer protest: किसान मोर्चा का ऐलान, 6 फरवरी को पूरे भारत में करेंगे चक्का जाम

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। संयुक्त किसान मोर्चा ने कहा कि 6 फरवरी को किसान 3 घंटे के लिए राष्ट्रीय और राज्य मार्गों पर चक्का जाम करेंगे। सोमवार देर शाम हुई एक प्रेस कॉन्फ्रेस में किसान नेताओं ने कहा कि सारे देश में फरवरी की छह तारीख को 12 बजे से 3 बजे तक राष्ट्रीय और राज्य मार्गों तीन घंटे के लिए चक्का जाम करेंगे।

उन्होंने कहा कि सोमवार शाम को हुई किसान नेताओं की बैठक हुई, जिसमें कई मुद्दों पर बात हुई। उन्होंने कहा कि युवा किसानों को परेशान किया जा रहा है, उन्हें पीटा जा रहा है। बता दें कि कृषि कानूनों को रद्द करने की मांग पर अड़े किसान पिछले 68 दिन से दिल्ली की सीमाओं पर आंदोलन कर रहे हैं।

26 जनवरी को हुई ट्रैक्टर रैली के बाद से कई किसान लापता हैं। सीमा के इर्द-गिर्द सड़कों को बंद कर दिया गया है। धरने वाली जगहों के आसपास इंटरनेट बंद है। यहां पानी और बिजली की सुविधा भी बंद कर दी गई है। 

किसान नेताओं का आरोप है कि आंदोलन के समर्थन के लिए आ रहे लोगों को धरनास्थल पर पहुंचने से रोका जा रहा है। किसान नेताओं का कहना है कि अगला आंदोलन और बेहतर तरीके से और अधिक मजबूती से किया जाएगा।

सरकार बातचीत से इस समस्या का हल निकाले, हम बातचीत के लिए तैयार: टिकैत
इससे पहले किसान नेता राकेश टिकैत ने कहा है कि सरकार बातचीत से इस समस्या का हल निकाले। हम बातचीत के लिए तैयार हैं, किसान मोर्चा के जो 40 संगठनों की 40 सदस्यों की कमेटी है, उससे सरकार बात करे।

कृषि सुधार बिलों की दृष्टि से जिन लोगों के मन में शंका है वो इस बजट से दूर हो जानी चाहिए: तोमर
वहीं, कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर ने कहा कि कृषि सुधार बिलों की दृष्टि से जिन लोगों के मन में शंका है वो इस बजट से दूर हो जानी चाहिए। इस बज़ट में MSP के प्रति प्रतिबद्धता भी जाहिर की है और APMC को सशक्त बनाने की दृष्टि से भी सरकार ने ध्यान रखा है। 



Home

Categories Uncategorized

Leave a Comment