By | May 15, 2020

प्रधानमंत्री आवास योजना – PM Awas Yojana List, Online Apply Home Loan, पीएम आवास योजना, आवास योजना लिस्ट कैसे देखे, आवास योजना लाभ केलकुलेटर, आवास योजना फॉर्म पीडीऍफ़, Awas Apply Form,

देश में शुरू प्रधानमंत्री आवास योजना PMAY

सबसे पहले आपको प्रधानमंत्री आवास योजना कि विशेषता बताते है ताकि आपको आवास योजना का लाभ लेने में आसानी हो शहरी इलाके में ”सभी के लिए घर” मिशन के तहत कार्यकारी एजेंसियों को केंद्रीय सहायता प्रदान करने के लिए मिशन को 17.06.2015 से प्रभावी कर दिया गया है. इस मिशन के तहत क्रेडिट लिंक्ड सब्सिडी स्कीम प्रस्तुत की जा रही है.मध्यम आय वर्ग (MIG) को घर बनाने या अधिग्रहण (दोबारा खरीदने) के लिए लिए हाउसिंग लोन के ब्याज़ दर पर सब्सिडी दी जाएगी

आवास योजना में कई तरह कि केटेगरी है .मध्यम आय वर्ग (MIG) को घर बनाने या अधिग्रहण (दोबारा खरीदने) के लिए लिए हाउसिंग लोन के ब्याज़ दर पर सब्सिडी दी जाएगी आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग (EWS)/कम आय वाले वर्ग (LIG) को घर के निर्माण या अ​धिग्रहण के लिए हाउसिंग लोन के ब्याज़ पर सब्सिडी दी जाएगी इन्क्रीमेंटल हाउसिंग के रूप में वर्तमान निवास स्थान में नए निर्माण और अतिरिक्त कमरे, रसोईघर, शौचालय आदि के लिए भी होम लोन पर क्रेडिट लिंक्ड सब्सिडी का लाभ उपलब्ध होगा.

ब्याज़ सब्सिडी का लाभ बकाया मूल राशि पर पहले मिलेगा.

ब्याज़ सब्सिडी की उपलब्धता और राशि, स्कीम के तहत विभिन्न कैटेगरी के आय मानदंडों की पूर्ति के अधीन है.

आवास योजना होम लोन में योग्यता लाभार्थी

  • एक लाभार्थी परिवार में पति, पत्नी, अविवाहित बेटे और/या अविवाहित बेटियां शामिल होंगी.
  • कमाई करने वाले व्यक्ति (चाहे वैवाहिक स्थिति कुछ भी हो) को एक अलग हाउसहोल्ड के रूप में माना जा सकता है

मुख्य मापदंड

विवरणEWSLIGMIG आईMIG II
घरेलू आय (रु. प्रति वर्ष)0-3,00,0003,00,001-6,00,0006,00,001-12,00,00012,00,001-18,00,000
ब्याज़ सब्सिडी के लिए पात्र हाउसिंग लोन राशि (रु.)6,00,000 तक6,00,000 तक9,00,000 तक12,00,000 तक
ब्याज़ सब्सिडी (% प्रति वर्ष)6.50%6.50%4.00%3.00%
अधिकतम लोन अवधि (वर्षों में)20202020
अधिकतम आवासीय इकाई प्रति कार्पेट एरिया30 Sq. m.60 Sq. m.160 Sq. m.200 Sq. m.
ब्याज़ सब्सिडी (%) की शुद्ध वर्तमान मूल्य (NPV) की गणना के लिए छूट दर9.00%9.00%9.00%9.00%
अधिकतम ब्याज़ सब्सिडी राशि (रु.)2,67,2802,67,2802,35,0682,30,156
प्रोसेसिंग फीस (रु.) के स्थान पर हर स्वीकृत PLI पर एकमुश्त भुगतान; लोन की राशि की उस सीमा तक, जहां तक सब्सिडी लागू है.300030002,0002,000
मौजूदा होन लोन पर या उसके बाद स्वीकृत स्कीम पर एप्लीकेशन17.06.201501.01.2017
नो पक्का हाउस की उपयुक्ततानवीनीकरण/अपग्रेडेशन के लिए नहींहांहां
महिला स्वामित्व/सह-स्वामित्वनए अधिग्रहण के लिए अनिवार्य, मौजूदा प्रॉपर्टी के लिए अनिवार्य नहीं हैअनिवार्य नहींअनिवार्य नहीं
घर की गुणवत्ता/फ्लैट निर्माणराष्ट्रीय भवन संहिता, BIS कोड और NDMA दिशानिर्देशों के अनुसार
बिल्डिंग डिज़ाइन के लिए अप्रूवलअनिवार्य
बेसिक सिविक इंफ्रास्ट्रक्चर (पानी, स्वच्छता, सीवरेज़, सड़क, बिजली इत्यादि)अनिवार्य

प्रधानमंत्री आवास योजना (PMAY) के बारे में

भारत सरकार द्वारा प्रधान मंत्री आवास योजना (PMAY) की स्कीम महंगे रियल स्टेट सेक्टर की अपेक्षा सस्ते घरों को बढ़ावा देने के उद्देश्य से शुरु की गई थी. इस स्कीम का लक्ष्य, महात्मा गांधी की 150 वीं जयंती के उपलक्ष्य में 31 मार्च 2022 तक देश भर में 20 मिलियन घरों का निर्माण करके “सब के लिए घर (हाउसिंग फॉर ऑल)” के अपने उद्देश्य को प्राप्त करना है.

क्षेत्रों की आवश्यकताओं के आधार पर, इस योजना को दो भागों में बांटा गया है – शहरी और ग्रामीण.

1. प्रधानमंत्री आवास योजना अर्बन (PMAY-U)

वर्तमान में, प्रधान मंत्री आवास योजना अर्बन (PMAY-U) की इस स्कीम के अंतर्गत लगभग 4,331 कस्बे और शहर हैं. इसमें शहरी विकास प्राधिकरण, विशेष क्षेत्र विकास प्राधिकरण, औद्योगिक विकास प्राधिकरण, विकास क्षेत्र, अधिसूचित योजना, और शहरी प्राधिकरण और नियमों के लिए उत्तरदायी सभी अन्य प्राधिकरण शामिल हैं.

यह स्कीम निम्नलिखित तीन चरणों में कार्य करेगी:

फेस 1. चुनिंदा राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों (UT) में अप्रैल -15 और मार्च 2017 के बीच 100 शहरों को कवर करना.
फेस 2. अप्रैल 2017 और मार्च 19 के बीच 200 अतिरिक्त शहरों को कवर करना.
फेस 3. अप्रैल –19 और मार्च 2022 के बीच बचे हुए शहरों को कवर करना.

आवास और शहरी कार्य मंत्रालय (मिनिस्ट्री ऑफ हाउसिंग एंड अर्बन अफेयर्स) के डेटा के अनुसार, 1 जुलाई 2019 तक, सभी राज्यों और केन्द्र शासित प्रदेशों में PMAY-U की प्रगति इस प्रकार है:

  • स्वीकृत घर – 83.63 लाख
  • पूरे हो चुके मकान – 26.08 लाख
  • अधिगृहीत मकान – 23.97 लाख

समान डेटा के अनुसार, इन्वेस्ट की जाने वाली कुल राशि रु. 4,95,838 करोड़ है, जिसमें से रु. 51,414.5 करोड़ की धनराशि पहले ही जारी की जा चुकी है. .

2. प्रधान मंत्री आवास योजना ग्रामीण (PMAY-G)

प्रधान मंत्री आवास योजना ग्रामीण (PMAY-G) को पहले इंदिरा आवास योजना कहा जाता था. हालांकि मार्च 2016 में इसका नाम बदल दिया गया. इसका लक्ष्य दिल्ली और चंडीगढ़ को छोड़कर पूरे ग्रामीण भारत के लिए किफायती और सुगम हाउसिंग को बढ़ावा देना है.

इसका उद्देश्य बेघरों को फाइनेंशियल सहायता और पुराने घरों में रहने वालों को पक्के घरों के निर्माण में सहायता प्रदान करना है. मैदानी इलाकों में रहने वाले लाभार्थी रु. 1.2 लाख तक प्राप्त कर सकते हैं और उत्तर-पूर्वी, पहाड़ी क्षेत्रों, इंटीग्रेटेड ऐक्शन प्लान (IAP),और दुर्गम क्षेत्रों में रहने वाले हाउसिंग के लिए रु. 1.3 लाख तक का लाभ उठा सकते हैं. वर्तमान में, ग्रामीण विकास मंत्रालय से उपलब्ध डेटा के अनुसार, सभी राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों में 1,03,01,107 मकानों को स्वीकृति दी जा चुकी है.

रियल स्टेट सेक्टर में खरीद को बढ़ावा देने के प्रयास में, सरकार ने PMAY की शुरुआत की, हाउसिंग डेवलपमेंट की इस लागत को केन्द्र और राज्य सरकार में निम्नलिखित तरीकों से शेयर किया जाएगा:

  • मैदानी क्षेत्रों के लिए 64:40.
  • उत्तर-पूर्वी और पहाड़ी क्षेत्रों के लिए 90:10.

इस PMAY स्कीम के लाभार्थियों की पहचान सामाजिक-आर्थिक और जाति जनगणना (SECC) से उपलब्ध डेटा के अनुसार की जाएगी और इसमें शामिल होंगे –

  • अनुसूचित जाति और अनुसूचित जनजाति.
  • गैर-SC/ST और BPL में आने वाले अल्पसंख्यक.
  • स्वतंत्र बंधुआ मजदूर.
  • अर्धसैनिक बलों के परिजन और विधवाएं तथा ऐक्शन में मारे गए व्यक्ति, पूर्व सैनिक, और रिटायरमेंट स्कीम के अंतर्गत आने वाले व्यक्ति शामिल हैं.

PM आवास योजना के घटक

इस स्कीम की चार प्रमुख विशेषताएं हैं:

I. क्रेडिट लिंक्ड सब्सिडी स्कीम (CLSS)

जो इस स्कीम के लिए पात्र हैं, उन्हें CLSS होम लोन की ब्याज़ दरों पर सब्सिडी प्रदान करता है. PMAY सब्सिडी दर, सब्सिडी राशि, अधिकतम लोन राशि, और अन्य विवरणों का उल्लेख नीचे किया गया है:

 EWSLIGMIG आईMIG II
अधिकतम होम लोन राशिरु. 3 लाख तकरू 3-6 लाखरू 6-12 लाखरू 12-18 लाख
ब्याज़ सब्सिडी6.50%6.50%4.00%3.00%
अधिकतम ब्याज़ सब्सिडी राशिरु. 2,67,280रु. 2,67,280रु. 2,35,068रु. 2,30,156
अधिकतम कारपेट एरिया30 Sq. m.60 Sq. m.160 Sq. m.200 Sq. m.

CLSS के अंतर्गत होम लोन की अधिकतम अवधि 20 वर्ष होती है. NPV या निवल वर्तमान मूल्य का मूल्यांकन ब्याज़ सब्सिडी के 9% की रियायती दर पर किया जाता है.

II. संसाधन के रूप में भूमि का उपयोग करके उसी स्थान पर झुग्गी-झोपड़ी का पुनर्विकास

इस स्कीम का उद्देश्य भूमि को संसाधन के रूप में बस्तियों के साथ पुनर्वासित करना, प्राइवेट संगठनों के साथ मिलकर ऐसे स्थानों पर रहने वाले परिवारों को घर प्रदान करना है.

केन्द्र सरकार घरों की कीमतें निर्धारित करती है, और लाभार्थी के योगदान (अगर कोई हो) का निर्णय संबंधित राज्य या केंद्र शासित प्रदेश (UT) द्वारा किया जाता है.

III. अफोर्डेबल हाउसिंग इन पार्टनरशिप (AHP)

अफोर्डेबल हाउसिंग इन पार्टनरशिप (AHP) केन्द्र सरकार की ओर से EWS परिवारों को घर खरीदने के लिए रु. 1.5 लाख की फाइनेंशियल सहायता प्रदान करती है. राज्य और केंद्र शासित प्रदेश (UT) ऐसे हाउसिंग प्रोजेक्ट के लिए प्राइवेट सेक्टर या अपनी एजेंसियों के साथ पार्टनर बन सकते हैं.

IIV. लाभार्थियों के द्वारा किया गया खुद के घर का निर्माण या सुधार कार्य

PM आवास योजना का यह घटक उन EWS परिवारों को टारगेट करता है जो पिछले तीन घटकों का लाभ नहीं उठा सकते हैं. ऐसे लाभार्थियों को केन्द्र सरकार से रु. 1.5 लाख तक की फाइनेंशियल सहायता प्राप्त होगी जिसका उपयोग वे घर के निमार्ण या मौजूदा घर को सुधारने के लिए कर सकते हैं. .

PMAY संबंधी सामान्य प्रश्न

प्रधान मंत्री आवास योजना के लिए कौन पात्र है?

निम्न व्यक्ति और परिवार इस स्कीम के लिए पात्र हैं:

  • आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग (EWS) – रु. 3 लाख तक की वार्षिक आय वाले परिवार.
  • निम्न आय वर्ग (LIG) – रु. 3 लाख से रु. 6 लाख तक की वार्षिक आय वाले परिवार.
  • मध्यम आय वर्ग I (MIG I) – रु. 6 लाख से रु. 12 लाख तक की वार्षिक आय वाले परिवार.
  • मध्यम आय वर्ग II (MIG II) – रु. 6 लाख से रु. 12 लाख तक की वार्षिक आय वाले परिवार.
  • महिलाएं जो EWS और LIG कैटेगरी से संबंधित हैं.
  • अनुसूचित जाति (SC), अनुसूचित जनजाति (ST), और अन्य पिछड़ा वर्ग (OBC).

उपरोक्त के अतिरिक्त, लाभार्थी निम्नलिखित कुछ पात्रता मानदंडों को पूरा करके इस स्कीम का लाभ उठा सकते हैं –

  • प्रधान मंत्री आवास योजना की पात्रता को पूरा करने के लिए उसके पास अपना घर नहीं होना चाहिए.
  • व्यक्ति ने राज्य या केंद्र सरकार की किसी अन्य हाउसिंग स्कीम का लाभ न लिया हो.

प्रधानमंत्री आवास योजना की इस स्कीम के लिए अप्लाई कैसे करें?

लाभार्थी निम्न माध्यम से PMAY स्कीम के लिए अप्लाई कर सकते हैं:

A. ऑनलाइन

ऑनलाइन अप्लाई करने के लिए व्यक्ति स्कीम की ऑफिशियल वेबसाइट पर जा सकता है. अप्लाई करने के लिए उनके पास मान्य आधार कार्ड होना चाहिए.

B. ऑफलाइन

लाभार्थी कॉमन सर्विस सेंटर (CSC) के माध्यम से उपलब्ध फॉर्म भरकर स्कीम के लिए ऑफलाइन अप्लाई कर सकता है. इन फार्म का मूल्य रु. 25 + GST है.

प्रधानमंत्री आवास योजना की लाभार्थी लिस्ट में अपना नाम कैसे चेक करें?

जो इस स्कीम के लिए पात्र हैं, निम्न चरणों का पालन करके प्रधानमंत्री आवास योजना लिस्ट में अपना नाम देख सकते हैं:

चरण 1: ऑफिशियल वेबसाइट पर जाएं.
2: लाभार्थी खोजें” पर क्लिक करें.
3: आधार नंबर दर्ज़ करें.
4: दिखाएं” पर क्लिक करें.

क्या प्रधानमंत्री आवास योजना मौजूदा होम लोन उधारकर्ताओं के लिए उपलब्ध है?

मौजूदा होम लोन लेने वाले भी इस स्कीम के लिए पात्र हैं, अगर वे संबंधित पात्रता मानदंडों को पूरा करते हों.

प्रधान मंत्री योजना ने किफायती हाउसिंग स्कीम प्रदान करने में महत्त्वपूर्ण भूमिका निभाई है. इस स्कीम की भूमिका केवल हाउसिंग को फाइनेंशियल स्थिरता के बावजूद सस्ता और किफायती बनाने तक ही सीमित नहीं है, बल्कि इसने रियल एस्टेट सेक्टर में रोजगार के पर्याप्त अवसर भी पैदा किए हैं. इस स्कीम में, RERA के शामिल होने के साथ, पूरे देश में लगभग 6.07 करोड़ रोजगार के अवसर पैदा हुए.

GOVT SCHEMEक्लिक करे
ताजा समाचार हिंदीक्लिक करे
किसान योजनाक्लि

3 Replies to “PMAY-प्रधानमंत्री आवास योजना Online Apply Home Loan”

  1. Shankar singh

    Help me plz sir
    Pm awas yojana.. kasi hoga apply. Contact 7876098854me plz help…
    I am BPl catagory …gen

Leave a Reply

Your email address will not be published.