By | June 23, 2020
यूपी: 1 जुलाई से खुल जायेंगे प्राइमरी स्कुल,शिक्षकों को आना होगा अनिवार्य

यूपी राज्य में 1 जुलाई 2020 से सरकारी प्राइमरी स्कुल खुल जायेंगे बेसिक शिक्षा महानिदेशक विजय किरन आनन्द ने ये आदेश जारी क्या है कि एक बार सिर्फ स्कुल के शिक्षक और प्रधानअध्यपकों को हि स्कुल आना अनिवार्य है बाकी सबसे पहले 6 से लेकर 14 वर्ष के बच्चों को स्कुल में लाया जाएगा तो आइये जानते है इसके बारे में विस्तार से

यूपी: 1 जुलाई से खुल जायेंगे प्राइमरी स्कुल,शिक्षकों को आना होगा अनिवार्य

उत्तरप्रदेश प्राइमरी स्कुल:-

जैसा कि इस समय देश में कोरोना वायरस covid-19 कि वजह से लोगो को काफी परेशानी हो रही है ऐसे में सरकार कि और से पुरे देश में लोकडाउन लगा दिया गया है इस Lockdown में केंद्र सरकार ने ये आदेश जारी कर दिया था कि किसी भी राज्य कि सरकारी या निजी स्कुल नही खुलेंगे बच्चों को इस लोकडाउन में पढाई का काफी नुकसान हो रहा है लेकिन अब एक खबर उत्तरप्रदेश राज्य से निकल कर आ रही है कि राज्य सरकार ने अपने राज्य के सरकारी प्राइमरी स्कूलों को खोलने के आदेश दे दिए है 

यानी 1 जुलाई 2020 से यूपी के सभी प्राइमरी स्कुल खुल जायेंगे लेकिन  बेसिक शिक्षा महानिदेशक विजय किरन आनन्द ने ये भी आदेश दिया है कि एक बार सिर्फ स्कुल का स्टाफ हि स्कुल में आयेगा यानी शिक्षक और प्रधानअध्यापक को हि स्कुल में आना है उसके बाद सबसे पहले उन बच्चों को स्कुल में प्रवेश दिया जाएगा जिनकी उम्र कम से कम 6 से लेकर 14 साल है

दीक्षा एप के जरिये:-

यूपी के प्राइमरी स्कुल तो 1 जुलाई से खुल जायेंगे मगर एक बार सिर्फ शिक्षक और प्रधानअध्यापक हि स्कुल में आएंगे और बच्चों को पढाई online एप के जरिये कराई जायेगी इसके लिए यूपी सरकार कि और से एक दीक्षा एप जारी किया गया है इस एप के माध्यम से शिक्षक अपना सेलेबस पूरा करेंगे

आपकी जानकारी के लिए ये भी बता दे कि 20 जुलाई 2020 से खण्ड शिक्षा अधिकारी 25-25 शिक्षको ने बैंच तैयार करेंगे

किताबें और युनिफोर्म अब शिक्षक तैयार करेंगे:-

UP(यूपी) Sarkar ने ये आदेश भी जारी किया है कि शिक्षक बच्चों को स्कुल युनिफोर्म और किताबों कि सप्लाई खुद करेंगे और युनिफोर्म शिक्षक खुद सिलवाकर देंगे रो जो बच्चें दिव्यांग है उनका इस बार समर्थ एप के जरिये नामाकन किया जाएगा और शिक्षक खुद हि गाँव में हर घर में जाकर के बच्चों का नामाकन करेंगे ताकि इस कोरोना माहामारी के बीच संक्रमण का खतरा कम हो और बच्चों कि पढाई का भी नुकसान न हो

यूपी सरकार प्राइमरी स्कूलों के बच्चों को जल्द से जल्द स्कुल में लाने का प्रयास कर रही है

Leave a Reply

Your email address will not be published.