Video: देश में पहली बार गणतंत्र दिवस पर ट्रैक्टर रैली निकाल रहे किसानों को तितर-बितर करने आंसू गैस के गोले छोड़े, लाठी चार्ज किया 

डिजिटल डेस्क ( भोपाल)।  दिल्ली की सीमा पर बीते दो महीने से आंदोलन कर रहे किसानों का ट्रैक्टर मार्च शुरू हो गया है। गाजीपुर बॉर्डर पर गणतंत्र दिवस के मौके पर आए हुए कुछ किसान बड़ी संख्या में ट्रैक्टर पर मौजूद हैं। सभी ट्रैक्टरों पर तिरंगा और किसान संगठनों के झंडे लगे हुए हैं। इससे पहले कृषि कानूनों के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे किसानों ने दिल्ली-मेरठ एक्सप्रेस-वे पर पांडव नगर के पास पुलिस बैरिकेडिंग को हटाया। कृषि क़ानूनों के खिलाफ ट्रैक्टर रैली निकाल रहे प्रदर्शनकारियों की भीड़ टिकरी बॉर्डर पर जमा हुई। दिल्ली के संजय गांधी ट्रांसपोर्ट नगर में किसानों को तितर-बितर करने के लिए पुलिस ने आंसू गैस का इस्तेमाल किया। सिंघू बॉर्डर से किसानों की ट्रैक्टर रैली यहां पहुंची थी। 

इस परेड को लेकर युवा किसान ज्यादा उत्साहित है, वहीं किसानों के इस परेड को लेकर दिल्ली पुलिस की चिंता काफी बढ़ गई है।  युवा किसान ट्रैक्टर पर डीजे लगाकर देश भक्ति के गाने बजा रहे हैं। फिलहाल अभी भारतीय किसान यूनियन के राष्ट्रीय प्रवक्ता किसानों को शांत कराते हुए दिखाई दे रहे हैं। वहीं उनकी तरफ से परेड अभी शुरू नहीं हुई है। उन्होंने सुरक्षा में खड़े पुलिसकर्मियों को गणतंत्र दिवस की बधाई दी और किसानों को संयम बरतने को भी कहा।

दिल्ली-उत्तर प्रदेश सीमा गाजीपुर बॉर्डर पर प्रदर्शनकारी किसानों में शामिल कुछ युवा किसान गणतंत्र परेड के लिए मंगलवार को तय समय से पहले बैरीकेड हटाकर देश की राजधानी दिल्ली में प्रवेश कर गए। वहीं, ट्रैक्टर पर बैठे युवा किसान तेज आवाज में डीजे, तेज रफ्तार में ट्रैक्टर को हाइवे पर दौड़ाते नजर आए। हालांकि, ट्रैक्टर परेड को लेकर किसान संगठनों की तरफ से कुछ निर्देश जारी किए गए थे, लेकिन फिलहाल इन निर्देशों का कोई खासा असर देखने को नहीं मिल रहा है।

किसान आंदोलन की अगुवाई कर रहे किसान नेताओं को उन्हें नियंत्रित करने में काफी मशक्कत करनी पड़ रही है। नये केंद्रीय कृषि कानूनों के खिलाफ ये सभी दिल्ली की सीमाओं पर प्रदर्शन कर रहे हैं। दिल्ली की सीमाओं पर प्रदर्शन कर रहे किसानों की अगुवाई करने वाले किसान संगठनों का संघ संयुक्त किसान मोर्चा के बैनर तले राष्ट्रीय राजधानी में ट्रैक्टर परेड निकालने की योजना बनाई गई थी।

 



[ad_2]

Home

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *